Kharinews

मध्य प्रदेश के नगरीय निकायों के चुनाव में भाजपा-कांग्रेस ने ताकत झोंकी

Jul
04 2022

भोपाल, 4 जुलाई (आईएएनएस)| मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव दोनों प्रमुख राजनीतिक दलों- भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के लिए महत्वपूर्ण हो गए हैं, क्योंकि इन चुनावों के जरिए ही वर्ष 2023 के विधानसभा चुनाव का रास्ता तय होगा। दोनों ही दलों के प्रमुख नेताओं ने अपनी ताकत झोंक दी है। राज्य में नगरीय निकाय के चुनाव दो चरणों में होना है, पहले चरण के लिए मतदान छह जुलाई को है, वहीं दूसरे चरण का मतदान 13 जुलाई को होना है। चुनाव में मतदान ईवीएम के जरिए होगा। राज्य में 16 नगर निगम है और इनमें बीते चुनाव में भाजपा ने जीत दर्ज की थी और सभी स्थानों पर उसके महापौर निर्वाचित हुए थे।

राज्य में वर्ष 2018 में हुए विधानसभा के चुनाव में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा था और उसके बाद दलबदल के कारण भाजपा फिर सत्ता में आई थी। लिहाजा, वर्ष 2023 में होने वाले विधानसभा के चुनाव दोनों ही राजनीतिक दलों के लिए महत्वपूर्ण है और उससे पहले होने वाले बड़े चुनाव नगरीय निकाय के हैं। इन चुनावों को विधानसभा के पहले का सेमी फाइनल माना जा रहा है।

नगरी निकाय चुनाव में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही राजनीतिक दल पूरा जोर लगाए हुए हैं। नेताओं के दौरे हो रहे हैं और मतदाताओं को लुभाने के लिए तरह-तरह के वादे किए जा रहे हैं। चुनावी माहौल पर गौर करें तो भाजपा की कमान पूरी तरह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के हाथ में है।

वहीं दूसरी ओर, कांग्रेस का सारा दारोमदार कमलनाथ के हाथ में है। हां, राजधानी में दिग्विजय सिंह की सक्रियता नजर आ रही है। भाजपा के दोनों प्रमुख नेता एक दिन में जहां तीन या उससे ज्यादा स्थानों पर दौरा कर रहे हैं तो वहीं कमलनाथ के दौरों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है।

दोनों ही प्रमुख राजनीतिक दलों कांग्रेस और भाजपा के अलावा आम आदमी पार्टी कई स्थानों पर जोर लगा रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के भी राज्य में दौरे हो रहे हैं तो वही एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी भी दौरा कर चुके हैं। नगरीय निकाय के चुनाव ने यह संकेत दे दिया है कि राज्य में अगले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी और ओवैसी की पार्टी भी जोर लगाने में पीछे नहीं रहेगी।

Related Articles

Comments

 

विदिशा के जंगल में वनकर्मी की गोली से एक की मौत, जांच के आदेश

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive