Kharinews

गुटेरेस ने उदयपुर हत्याकांड के बाद सभी धर्मो का सम्मान करने का आह्वान किया

Jun
30 2022

संयुक्त राष्ट्र, 30 जून (आईएएनएस)| संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने बुधवार को राजस्थान के उदयपुर में एक हिंदू व्यक्ति की हत्या के बाद सभी धर्मो के लिए पूर्ण सम्मान का आह्वान किया।

भारत में धार्मिक तनाव और मंगलवार की हत्या के बारे में एक सवाल के जवाब में गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा, "हम सभी धर्मो के लिए पूर्ण सम्मान और दुनियाभर में यह सुनिश्चित करने के लिए कहते हैं कि विभिन्न समुदाय सद्भाव और शांति से रह सकें।"

पत्रकार मोहम्मद जुबैर की गिरफ्तारी के बारे में पूछे जाने पर, जिन पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप है, दुजारिक ने कहा, "दुनिया भर में किसी भी स्थान पर यह बहुत महत्वपूर्ण है कि लोगों को खुद को स्वतंत्र रूप से व्यक्त करने की अनुमति दी जाए, पत्रकारों को खुद को व्यक्त करने की अनुमति दी जाए। स्वतंत्र रूप से और बिना किसी उत्पीड़न की धमकी के।"

बुधवार को उनसे यह स्पष्ट करने के लिए कहा गया था कि क्या यह सभी धर्मो के बारे में पत्रकारों की टिप्पणियों पर लागू होता है और क्या यह सभी धर्मो के सम्मान के आह्वान के साथ है।

उन्होंने कहा, "हम अभिव्यक्ति के मौलिक अधिकार में विश्वास करते हैं, पत्रकारों को खुद को व्यक्त करने के लिए यह जरूरी है। अन्य समुदायों और अन्य धर्मो का सम्मान करने की मूलभूत आवश्यकता में भी विश्वास करते हैं।"

मीडिया की स्वतंत्रता पर एक अन्य प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा : "प्रेस की स्वतंत्रता दुनिया भर में 193 सदस्य देशों में लागू है और वे सिद्धांत अपरिवर्तित और अडिग रहते हैं।"

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने मंगलवार को सुरक्षा परिषद में एक वीडियो बयान में कहा था कि रूसी सेना के कार्यो को सही ठहराने वाले पत्रकारों को दंडित किया जाएगा।

भारत के उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या कथित तौर पर नूपुर शर्मा के समर्थन में एक सोशल मीडिया पोस्ट के कारण की गई। नूपुर भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता थीं, जो अब निलंबित हैं। उन्होंने कथित तौर पर पैगंबर मुहम्मद के बारे में अपमानजनक टिप्पणी की थी।

कथित तौर पर हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए एक वीडियो पोस्ट करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

नूपुर शर्मा पर भी जुबैर के समान ही धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप है, हालांकि विभिन्न धर्मो से संबंधित है।

इस विषय पर सबसे हालिया बयान में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टी.एस. तिरुमूर्ति ने पिछले हफ्ते महासभा को बताया था, "यह समय है कि संयुक्त राष्ट्र के सदस्य राज्यों ने गैर-अब्राहम धर्मो के खिलाफ भी नफरत की निंदा की और धार्मिक भय का मुकाबला करने में चयनात्मक होने से रोक दिया।"

Related Articles

Comments

 

विदिशा के जंगल में वनकर्मी की गोली से एक की मौत, जांच के आदेश

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive