Kharinews

ममता पर हमले के बाद गरमाई राजनीति

Mar
11 2021

नई दिल्ली, 11 मार्च (आईएएनएस)। नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के घायल होने के बाद राज्य में राजनीति गरमा गई है। बुधवार को तृणमूल ने इस हमले के पीछे अपने राजनीतिक विरोधियों को दोषी ठहराते हुए इसे साजिश करार दिया, जो कि बनर्जी को बंगाल के लोगों से मिली जोरदार प्रितिक्रिया के चलते रची गई।

तृणमूल के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, इस र्दुभावना पूर्व घटना के लिए जिम्मेदार लोगों पर मामला दर्ज होना चाहिए। घटना के 30 मिनट के अंदर ही जो बयान आए, वे निंदनीय हैं।

ओ ब्रायन ने यह नाराजगी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी के उस बयान के बाद जताई, जिसमें उन्होंने कहा था, बनर्जी हमले का बहाना बनाकर सहानुभूति हासिल करने की कोशिश कर रही हैं।

हालांकि, चौधरी के बयानों को उनकी ही पार्टी के नेता अभिजीत मुखर्जी ने एक ट्वीट करके पलट दिया। उन्होंने ट्वीट में कहा, मैं दीदी के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं! इसके पीछे जो भी लोग हैं, उन्हें बख्शा नहीं जाना चाहिए। दीदी, अभी आपको आगे बढ़ने के लिए बड़ी लड़ाई लड़नी है, आप निश्चित तौर पर विजयी हों। मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं, एक बार फिर आपके जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

उधर भाजपा ने कहा है कि यह एक दुर्घटना हो सकती है, वैसे नंदीग्राम ममता बनर्जी से नाराज है। पार्टी ने कहा, बनर्जी इस घटना के लिए बेवजह दोषी ठहरा रही हैं क्योंकि मौके पर मौजूद गवाहों ने इसे एक्सीडेंट बताया है। ऐसा लगता है कि जब उनका ड्राइवर कार मोड़ रहा था, तब उनका एक पैर दरवाजे के बीच आ गया।

बनर्जी अब कोलकाता के एक अस्पताल में हैं और उनके पैर प्लास्टर चढ़ा हुआ है, ऐसा लगता है कि उन्हें ठीक होने में कुछ दिन लग सकते हैं।

कोलकाता जाने से ठीक पहले 66 वर्षीय तृणमूल सुप्रीमो ने बुधवार को मीडिया से कहा था कि उन्हें बिरुलिया अंचल में 4-5 लोगों ने धक्का दिया था और उनकी कार का दरवाजा बंद कर दिया था। उस समय उसके आसपास कोई पुलिस कर्मी नहीं था। एक एसयूवी की अगली सीट पर बैठीं ममता अपने पैर की इशारा करते हुए कह रही हैं कि, देखें यह कैसे सूजा हुआ है।

जब उनसे पूछा गया कि क्या उन्हें लगता है कि यह एक सुनियोजित हमला है, तो उन्होंने कहा, बेशक यह एक साजिश है .. मेरे आसपास कोई पुलिसकर्मी नहीं थे। इस दौरान उन्होंने सीने में दर्द की शिकायत भी की।

नंदीग्राम में नामांकन दाखिल करने के बाद उनकी एक रात वहीं रुकने की योजना थी लेकिन इस घटना के बाद उन्हें 130 किमी दूर कोलकाता वापस जाना पड़ा।

बता दें कि ममता बनर्जी ने बुधवार को नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनावी समर में उतरने के लिए अपना नामांकन दाखिल करने के बाद हल्दिया में 2 किलोमीटर लंबे रोड शो में हिस्सा लिया था।

--आईएएनएस

एसडीजे/आरएचए

Related Articles

Comments

 

बंगाल चुनाव : छठे चरण में हिंसा की छिटपुट घटनाओं के बीच 79 फीसदी मतदान

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive