Kharinews

यूपी को मिलेगी 1193 नए फ्लाईओवर और आरओबी की सौगात

Sep
22 2021

लखनऊ, 21 सितंबर(आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में फ्लाईओवरों और आरओबी के नेटवर्क से नई उड़ान मिलने जा रही है। साढ़े चार साल में रिकार्ड संख्या में सेतु निर्माण कर राज्य सरकार ने प्रदेश में तरक्की की मजबूत बुनियाद रख दी है। राज्य सरकार आने वाले समय में प्रदेश की जनता को 1193 नए फ्लाईओवर और आरओबी का तोहफा देने की तैयारी कर रही है।

54 आरओबी और 355 लघु सेतुओं का रिकार्ड समय में निर्माण कर राज्य सरकार ने इरादे जाहिर कर दिए हैं। राज्य सरकार प्रदेश में यातायात को और सुगम बनाने जा रही है। किसी राज्य के विकास और तरक्की का पैमाना सड़कें और फ्लाईओवर माने जाते हैं तो यूपी ने भविष्य के विकास की मजबूत नींव खींच दी है।

सरकार प्रदेश में 121 नए आरओबी 305 दीर्घ सेतुओं और 767 लघु सेतुओं समेत कुल 1193 नए पुलों के निर्माण पर तेजी से काम कर रही है। इनमें से 260 सेतु ऐसे हैं जिनका शिलान्यास पिछली सरकारों में वर्षों पहले हुआ लेकिन निर्माण कार्य नहीं शुरू हो सका। कई योजनाओं को अगले कुछ दिनों में पूरा करने की तैयारी चल रही है। नए सेतुओं के नेटवर्क के साथ यूपी देश के सबसे अधिक फ्लाईओवर और सुगम यातायात वाले राज्यों में शामिल हो जाएगा।

निर्मित हो चुके 124 दीर्घ सेतुओं में से 89 सेतु ऐसे हैं जो पिछली सरकारों में कई वर्षों से अधूरे पड़े थे। राज्य सरकार द्वारा बनाए गए 54 आरओबी में से 35 पिछली सरकारों में लंबे समय से अधूरे पड़े थे। लोक निर्माण विभाग और राज्य सेतु निगम ने पुलों और आरओबी निर्माण के मामले में पिछली सरकारों को मीलों पीछे छोड़ दिया है। सेतुओं का सबसे बड़ा नेटवर्क खड़ा कर राज्य सरकार ने प्रदेश में विकास के साथ ही रोजगार की भी बड़ी राह खोल दी है।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य कहते हैं कि सड़कें हों या सेतु हमने रिकार्ड समय में योजनाओं को पूरा किया है। समयबद्धता, गुणवत्ता के साथ हमने तकनीक को सर्वोपरि रखा है। हमारा लक्ष्य प्रदेश के लोगों को सुगम यातायात सुलभ कराने के साथ ही सड़कों और सेतुओं के जरिये विकास और तरक्की की राह मजबूत करना है। पिछली सरकारों में अधूरी पड़ी योजनाओं को भी हम पूरा कर रहे हैं।

--आईएएनएस

विकेटी/एएनएम

Related Articles

Comments

 

हरियाणा की 76.3 प्रतिशत आबादी में कोविड-19 एंटीबॉडी

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive