Kharinews

विदेश राज्यमंत्री मुरलीधरन 15 से 17 सितंबर तक अल्जीरिया के दौरे पर

Sep
14 2021

नई दिल्ली, 14 सितंबर (आईएएनएस)। भारत के विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन 15 से 17 सितंबर तक अल्जीरिया के दौरे पर रहेंगे। एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई।

अपनी यात्रा के दौरान वह अल्जीरिया के प्रधानमंत्री अयमन बेनबदररहमान से मुलाकात करेंगे और अपने समकक्ष रामताने लामामरा के साथ भी बातचीत करेंगे।

भारत और अल्जीरिया के बीच राजनयिक संबंध जुलाई 1962 में स्थापित किए गए थे, जिस वर्ष उत्तरी अफ्रीकी देश ने फ्रांसीसी औपनिवेशिक शासन से स्वतंत्रता प्राप्त की थी।

दोनों देश गुटनिरपेक्ष आंदोलन का हिस्सा हैं। अफ्रीकी संघ के सदस्य के रूप में, अल्जीरिया एक सुधारित सुरक्षा परिषद में स्थायी सीट के लिए भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करता है।

दोनों देशों के नेताओं द्वारा नियमित रूप से उच्च स्तरीय यात्राओं का आदान-प्रदान होता रहा है। दोनों देश द्विपक्षीय और बहुपक्षीय स्तरों पर महत्वपूर्ण मुद्दों पर एक दूसरे का समर्थन करते रहे हैं।

मई 2003 में आए भूकंप के बाद भारत ने अल्जीरिया को 10 लाख डॉलर की मानवीय सहायता प्रदान की। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने जुलाई 2010 में अल्जीरियाई उपग्रह अलसैट 2ए को कक्षा में प्रक्षेपित किया था।

भारत की सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियां इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड, इरकॉन इंटरनेशनल लिमिटेड और भारतीय दूरसंचार सलाहकार (टीसीआईएल) अल्जीरिया में अपने-अपने क्षेत्रों से संबंधित परियोजनाओं को क्रियान्वित कर रही हैं, जबकि लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी), केईसी इंटरनेशनल और कल्पतरु जैसी निजी कंपनियां अपने बिजली पारेषण परियोजनाओं को क्रियान्वित कर रही हैं।

वहां इन कंपनियों के अलावा बिजली उपकरण निर्माता विजय इलेक्ट्रिकल्स, डोडसाल इंजीनियरिंग, निर्माण कंपनी शापूरजी पल्लोनजी, जाइडस कैडिला, डाबर, सन फार्मा, सिप्ला और हेट्रो ड्रग्स जैसी दवा कंपनियां वहां मौजूद हैं।

अल्जीरिया में भारतीय डायस्पोरा बहुत कम है, जिसमें विभिन्न परियोजनाओं और प्रतिष्ठानों में काम करने वाले लगभग 5,700 भारतीय और अल्जीयर्स में कुछ मुट्ठी भर भारतीय शामिल हैं, जिनमें कुछ देश प्रमुख भी शामिल हैं। भारत के नौ प्रवासी नागरिक और भारतीय मूल के 10 व्यक्ति हैं।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Related Articles

Comments

 

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने न्यायमूर्ति बागची को कलकत्ता हाईकोर्ट में तबादले की सिफारिश की

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive