Kharinews

्रपंजाब : अमित शर्मा हत्या मामले में एनआईए ने 3 के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की

Jan
13 2021

नई दिल्ली, 13 जनवरी (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने पंजाब में वर्ष 2016-17 में श्री हिंदू तख्त प्रमुख अमित शर्मा की हत्या के मामले में उत्तर प्रदेश के तीन लोगों के खिलाफ अदालत में पूरक आरोपपत्र दाखिल किया है।

आरोपपत्र (चार्जशीट) में एनआईए ने इस कृत्य को आतंकवादी गतिविधि करार दिया है। एनआईए का कहना है कि इस हत्या की साजिश खालिस्तान लिबरेशन फ्रंट (केएलएफ) ने रची थी।

एनआईए ने 2017 में पंजाब सरकार और गृह मंत्रालय के आदेश के बाद इस मामले की जांच का जिम्मा संभाला था।

एंटी टेरर एजेंसी ने उत्तर प्रदेश के मेरठ के रहने वाली तीन आरोपियों आशीष कुमार, जावेद और अरशद अली को आरोपपत्र में नामजद किया है और विशेष एनआईए अदालत के समक्ष आरोपपत्र दायर किया है।

चार्जशीट में एनआईए ने तीनों आरोपियों को गैरकानूनी गतिविधियों (रोकथाम) अधिनियम और शस्त्र अधिनियम के तहत नामजद किया है। एजेंसी ने 10 दिसंबर, 2017 से पंजाब पुलिस की ओर से इस मामले में दायर एक एफआईआर के बाद मामले की जांच की जिम्मेदारी संभाली थी, जो कि 15 जनवरी 2017 को अमित शर्मा की हत्या से संबंधित है।

शर्मा 2017 में लुधियाना के श्री हिंदू तख्त के अध्यक्ष थे।

एनआईए द्वारा दाखिल आरोपपत्र के मुताबिक, 14 जनवरी 2017 को दो अज्ञात मोटरसाइकिल सवार लोगों ने हिंदू नेता अमित शर्मा की हत्या कर दी थी। इस हत्या की साजिश आतंकी संगठन केएलएफ ने रची थी।

एनआईए का कहना है कि वर्ष 2016-2017 के बीच पंजाब में इस तरह लगातार आठ लोगों की हत्या की गई थी। इनका मकसद लोगों में दहशत फैलाना व सांप्रदायिक उन्माद को बढ़ावा देना था।

इससे पहले एनआईए ने 15 लोगों के खिलाफ 14 मई 2018 को चार्जशीट दायर की थी। एनआईए का कहना है कि पंजाब में आतंकी संगठन द्वारा जो हत्याएं की गईं, उनके लिए इन तीनों आरोपियों ने हथियारों की सप्लाई की थी। इनमें प्वाइंट 32 बोर की पिस्तौल सहित अन्य हथियार शामिल थे। इस मामले में आगे की जांच अभी भी जारी है।

--आईएएनएस

एकेके/एसजीके

Related Articles

Comments

 

घर पहुंचने पर रहाणे, नटराजन का हुआ शानदार स्वागत (लीड-1)

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive