Kharinews

3 में से 1 सार्स-सीओवी 2 मरीज लॉन्ग कोविड की चपेट में : स्टडी

Apr
19 2022

न्यूयॉर्क, 19 अप्रैल (आईएएनएस)। सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम-कोविड (सार्स-सीओवी 2) के मरीजों में तीन में से एक व्यक्ति में एक्यूट सीक्वल विकसित होने की संभावना है। जिसे आमतौर पर लॉन्ग कोविड के रूप में जाना जाता है।

अस्पताल में भर्ती होने वाले, डायबिटीज और उच्च बॉडी मास इंडेक्स वाले मरीजों में लॉन्ग कोविड के चपेट में आने की सबसे अधिक संभावना है, जबकि ऑर्गन ट्रांसप्लांट कराने वाले मरीजों में इसके विकसित होने की संभावना कम है।

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय लॉस एंजिल्स के शोधकतार्ओं ने लॉंग कोविड से संक्रमित 309 लोगों पर रिसर्च किया। उन्होंने अस्पताल में भर्ती मरीजों में थकान और सांस की तकलीफ जैसे लक्षण देखे। जबकि बाहरी मरीजों में सूंघने की शक्ति को खोना जैसी समस्या पाई।

मार्च में, यूके में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय ने किए गए स्टडी के बारे में जानकारी दी थी। जिसमें दिखाया गया था कि 10 में से सात लांग कोविड रोगियों को अपनी बीमारी की शुरूआत के कई महीनों बाद याददाश्त संबंधित समस्याओं का अनुभव होता है।

यूसीएलए में स्वास्थ्य विज्ञान के सहायक क्लीनिकल प्रोफेसर डॉ सन यू ने कहा, एक ही स्वास्थ्य प्रणाली में परिणामों का अध्ययन चिकित्सा देखभाल की गुणवत्ता में भिन्नता को कम कर सकता है। हमें लॉन्ग कोविड से लड़ने के लिए बेहतर उपकरणों की आवश्यकता है।

यू ने बाहरी मरीजों के लिए लॉन्ग कोविड से देखभाल के लिए समान पहुंच सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

--आईएएनएस

पीके/एसकेपी

Related Articles

Comments

 

राजस्थान कांग्रेस ने भाजपा के आतंकवादियों से कथित संबंधों की एनआईए जांच की मांग की

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive