अपनी मां सुषमा स्वराज की तरह बांसुरी स्वराज ने ली संस्कृत भाषा में सांसद पद की शपथ

0
11

नई दिल्ली, 24 जून (आईएएनएस)। हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट से भाजपा सांसद कंगना रनौत ने सोमवार को 18वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में शपथ ली। उन्होंने हिंदी में शपथ ली।

अभिनेत्री और भाजपा नेता के तौर पर पहचान रखने वाली कंगना रनौत ने मंडी लोकसभा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार विक्रमादित्य सिंह को 74,755 वोटों से हराया था।

वहीं दिवंगत विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज ने संस्कृत भाषा में शपथ ली। इससे पहले सुषमा स्वराज जब साल 2014 में विदिशा लोकसभा सीट से सांसद निर्वाचित हुई थी तब उन्होंने भी बतौर संसद सदस्य संस्कृत में शपथ ली थी।

बांसुरी स्वराज ने अपने पहले लोकसभा चुनाव में नई दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र से जीत हासिल की। उन्होंने आप के सोमनाथ भारती को 78,370 मतों के अंतर से हराया।

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ ली। अनुप्रिया पटेल उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करती हैं।

इसके साथ केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव और गजेंद्र सिंह शेखावत ने 18वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में शपथ ली।

लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ लेने वालों में सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी थे। सोमवार को लोकसभा की कार्यवाही प्रारंभ होने पर प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब ने उन्हें 18वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में शपथ दिलाई।

प्रधानमंत्री के बाद कांग्रेस सांसद कोडिकुन्निल सुरेश का नाम पुकारा गया लेकिन वह सदन में मौजूद नहीं थे। इसके बाद टीआर बालू का नाम प्रोटेम स्पीकर ने पुकारा लेकिन वह भी सदन में मौजूद नहीं थे।

फिर राधा मोहन सिंह को संसद सदस्य के रूप में शपथ दिलाई गई। इसके बाद फग्गन सिंह कुलस्ते ने संसद सदस्य के रूप में शपथ ली। इसके बाद केंद्रीय मंत्रियों को शपथ दिलाई गई जिनमें सबसे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शपथ ली।

राजनाथ सिंह के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, नितिन जयराम गडकरी, शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री व हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल, एचडी कुमारस्वामी, पीयूष गोयल ने संसद सदस्य के तौर पर शपथ ली।