एलजी को शिक्षकों का तबादला लेना पड़ा वापस : शिक्षा मंत्री आतिशी

0
8

नई दिल्ली, 7 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली की शिक्षा मंत्री आतिशी का कहना है कि आखिरकार एलजी को सरकारी स्कूलों में तैनात पांच हजार शिक्षकों के तबादले का आदेश वापस लेना पड़ा। आतिशी ने इसे दिल्ली वालों की जीत बताते हुए कहा कि मेरे आदेश के खिलाफ जाकर दो जुलाई को एलजी के जरिए इन शिक्षकों का तबादला कर दिया गया था। उस वक्त मैंने दिल्ली वालों से वादा किया था कि केजरीवाल सरकार सरकारी स्कूलों को कोई नुकसान नहीं होने देगी। आज शिक्षकों और बच्चों के पेरेंट्स का संघर्ष सफल हो गया है।

उन्होंने कहा कि भाजपा को पता चल गया है कि अगर वो दिल्ली की शिक्षा क्रांति को खत्म करने की कोशिश करेगी तो दिल्ली की जनता और आम आदमी पार्टी उसका कड़ा विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि ये वही शिक्षक हैं, जिन्होंने केजरीवाल सरकार के साथ मिलकर सरकारी स्कूलों का कायापलट कर दिया और प्राइवेट स्कूलों से अच्छे नतीजे लाकर दिखाए।

दिल्ली सरकार के स्कूलों में तैनात शिक्षकों के तबादले का आदेश वापस लेने पर शिक्षा मंत्री आतिशी ने कहा कि दो जुलाई को भाजपा ने एलजी साहब के माध्यम से रातों-रात दिल्ली के सरकारी स्कूलों के 5000 शिक्षकों का तबादला कर दिया। मेरे आदेश के खिलाफ जाकर यह तबादला किया गया। इन 5000 शिक्षकों का तबादला इसलिए किया गया, क्योंकि यह वो शिक्षक हैं, जिन्होंने पिछले 10 साल में अरविंद केजरीवाल की सरकार के साथ दिल्ली के सरकारी स्कूलों का कायाकल्प किया है।

आतिशी ने कहा कि जिस दिन यह ऑर्डर आया था, मैंने दिल्ली के लोगों, बच्चों के माता-पिता और सभी शिक्षकों से वादा किया था कि सरकार दिल्ली के स्कूलों को कोई नुकसान नहीं होने देगी। मुझे इस बात की खुशी है कि आज भाजपा और एलजी साहब को इन 5000 टीचर्स का तबादलेे का फैसला वापस लेना पड़ा है। ये न सिर्फ दिल्ली के शिक्षकों और छात्रों के मां-बाप की जीत है, यह सभी दिल्ली वालों की जीत है।

उन्होंने कहा, मैं सभी दिल्लीवालों को, शिक्षकों और बच्चों के माता-पिता को बधाई देती हूं कि आपका संघर्ष सफल हुआ। उन्होंने भाजपा से कहा कि वो दिल्लीवालों को परेशान करने, उनका जीवन खराब करने और दिल्ली के सरकारी स्कूलों को बिगाड़ने का षडयंत्र बंद करे।