Kharinews

झारखंड के विधायकों के आने से छत्तीसगढ़ में सियासी पारा चढ़ा

Sep
01 2022

रायपुर, 31 अगस्त (आईएएनएस)। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में झारखंड के विधायकों का डेरा डालने से यहां का सियासी पारा चढ़ गया है। राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह आमने सामने हैं और एक दूसरे पर हमले बोल रहे हैं।

झारखंड में चल रहे सियासी घमासान के बीच झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के विधायकों को किसी भी तरह की सौदेबाजी से बचाने के लिए छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर लाया गया है। इन विधायकों को एक रिसॉर्ट में ठहराया गया है, जहां उनकी मेहमान नवाजी में कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है।

झारखंड से आए विधायक मेफेयर रिसॉर्ट में रुके हैं, इन विधायक की देखरेख के लिए कांग्रेस के तीन बड़े नेताओं को लगाया गया है। इसके अतिरिक्त कोई बाहरी लोग इनसे मुलाकात नहीं कर सकते हैं।

विधायकों के रायपुर में लाने और उनके लिए खास इंतजाम किए जाने पर भाजपा नेता डॉ रमन सिंह ने तंज कसा और कहा, भूपेश जी कान खोलकर सुन लीजिए! छत्तीसगढ़ अय्याशी का अड्डा नहीं है, जो छत्तीसगढ़ियों के पैसे से झारखंड के विधायकों को दारू-मुर्गा खिला रहे हैं। असम, हरियाणा के बाद अब झारखंड के विधायको का डेरा, इन अनैतिक कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ की महतारी आपको कभी माफ नहीं करेगी।

डॉ रमन सिंह ने आगे कहा, जिस प्रकार मेहमान नवाजी हो रही है वो होना चाहिए। लेकिन जिस तरह से सरकारी वाहन में लादकर वहां पर महंगी शराब बांटी जा रही है। सरकार ने अबतक उस गाड़ी को जब्त क्यों नहीं किया है?

डॉ सिंह के आरोपों का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, डॉ. रमन सिंह को यह देखना चाहिए कि कर्नाटक के विधायक, महाराष्ट्र के विधायक, राजस्थान के विधायक, मध्यप्रदेश के विधायक, दूसरी पार्टी के विधायक जब उठा उठाकर ले जाए गए तब उनकी बोलती बंद क्यों थी? वो चुप क्यों थे? उस समय बोलना था। ये तो हमारी पार्टी के लोग हैं। हमारे गठबंधन के लोग हैं। इसमें उनको तकलीफ क्यों हो रही है।

मुख्यमंत्री बघेल ने आगे ने कहा, उनको तकलीफ हो रही है क्योंकि अगर खुला छोड़ देते तो वो वहां खरीद फरोख्त करते। अन्य राज्यों में जब खरीद फरोख्त हो रही थी तब डॉ. रमन सिंह चुप क्यों थे? जिस प्रकार से महाराष्ट्र में बात चल रही है पचास खोखा, झारखंड में बात चल रही है बीस-बीस खोखा रमन सिंह उसका जवाब दें।

मुख्यमंत्री ने खुले तौर पर आरोप लगाया कि भाजपा हार्स ट्रेडिंग कर रही है। उसकी वजह से झारखंड के विधायकों को छत्तीसगढ़ लाया गया है।

--आईएएनएस

एसएनपी/एएनएम

Related Articles

Comments

 

दिल्ली के नजफगढ़ में इमारत गिरी, 3 घायल

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive