जम्मू-कश्मीर में शहीद हुए छिंदवाड़ा के जवान को दी गई अंतिम विदाई

0
16

छिंदवाड़ा/भोपाल, 13 जून (आईएएनएस)। जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में मंगलवार की रात आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के निवासी सीआरपीएफ जवान कबीर दास को गुरुवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई।

छिंदवाड़ा के पुलपुलडोह निवासी सीआरपीएफ जवान कबीर दास की पार्थिव देह गुरुवार को हवाई मार्ग से नागपुर पहुंची और वहां से सड़क मार्ग से उनके गांव लाया गया।

पार्थिव शरीर के आते ही गांव गम में डूब गया, उनका पूरा परिवार बिलख रहा था। हर तरफ ‘भारत माता जिंदाबाद’ और ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे गूंज रहे थे।

कबीर दास की पार्थिव देह को गार्ड ऑफ ऑनर के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। आदिवासी समाज की परंपरा के मुताबिक कबीर दास को अंतिम विदाई दी गई।

शहीद कबीर दास को श्रद्धांजलि अर्पित करने सिर्फ गांव ही नहीं, आसपास के सैकड़ों लोग पहुंचे। लोगों ने शहीद जवान की पार्थिव देह पर पुष्पांजलि अर्पित की और शहादत को नमन किया।

हर तरफ शहीद के नाम के नारे लगे और यही कहा गया कि कबीर दास की शहादत बेकार नहीं जाएगी। पाकिस्तान और आतंकवादियों के मंसूबे कभी भी पूरे नहीं होंगे।

जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले के हीरा नगर इलाके में मंगलवार की रात आतंकियों से सुरक्षा बलों की मुठभेड़ हो गई थी। मुठभेड़ में छिंदवाड़ा जिले के निवासी और सीआरपीएफ जवान कबीर दास गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बुधवार की सुबह उनका निधन हो गया।

कबीर दास की शहादत पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी दुख व्यक्त किया था।