पीएम मोदी कब तक इमरजेंसी का ढोल पीटते रहेंगे : प्रियंका चतुर्वेदी

0
13

नई दिल्ली, 26 जून (आईएएनएस)। ओम बिरला को आज दूसरी बार लोकसभा का अध्यक्ष चुना गया। सदन का स्पीकर बनते ही इमरजेंसी को लेकर उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण था। इसे लेकर शिवसेना (यूबीटी) सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने एनडीए सरकार पर हमला किया।

उन्होंने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कब तक इमरजेंसी का ढोल पीटते रहेंगे। क्या यह सत्य नहीं है कि जब इमरजेंसी लगी थी, उसके बाद इंदिरा गांधी को हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन उन्होंने फिर से मेहनत करके जनता का दिल जीता और सत्ता पर काबिज हुईं।

प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि पिछले 10 सालों में अघोषित आपातकाल देश में लगाया गया है। आज देश में एजुकेशन और मेडिकल इमरजेंसी है। परीक्षाएं रद्द हो रही हैं और पेपर लीक किए जा रहे हैं। विपक्ष की सरकार गिराकर लोकतंत्र की आवाज दबाई गई। मीडिया का दुरुपयोग किया गया। आज का 18 साल का युवा देश में रोजगार की बात करेगा या इमरजेंसी की बात करेगा। लोग प्रधानमंत्री के मन की बात सुन चुके हैं, अब जन की बात करने की जरूरत है।

उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को लोकसभा में नेता विपक्ष बनने पर बधाई भी दी। उन्होंने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा के माध्यम से राहुल गांधी ने यह साबित कर दिया कि नेता विपक्ष की जिम्मेदारी वो भली-भांति निभाएंगे। खासकर ऐसे समय पर जब संविधान और लोकतंत्र को बचाने की बात आती है। हम सब यही उम्मीद करेंगे कि सदन में वो जनता की बात पुरजोर तरीके से रख सकेंगे।