प्रधानमंत्री व उनके कैबिनेट सहयोगियों ने ली सांसद पद की शपथ

0
11

नई दिल्ली, 24 जून (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 18वीं लोकसभा के लिए संसद सदस्य के रूप में शपथ ली। सोमवार को लोकसभा की कार्यवाही प्रारंभ होने पर प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब ने उन्हें 18वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में शपथ दिलाई।

सदन के नेता होने के नाते लोकसभा में सर्वप्रथम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शपथ दिलाई गई। शपथ लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, मैं नरेंद्र दामोदरदास मोदी जो लोकसभा का सदस्य निर्वाचित हुआ हूं, ईश्वर की शपथ लेता हूं कि मैं विधि द्वारा स्थापित भारत के संविधान के प्रति सच्ची श्रद्धा और निष्ठा रखूंगा। मैं भारत की प्रभुता और अखंडता अक्षुण्ण रखूंगा तथा जिस पद को मैं ग्रहण करने वाला हूं उसके कर्तव्यों का श्रद्धापूर्वक निर्वहन करुंगा।

शपथ लेने के बाद प्रधानमंत्री ने प्रोटेम स्पीकर का धन्यवाद किया और तालियों की गड़गड़ाहट के बीच अपने स्थान को ग्रहण किया। प्रधानमंत्री ने एक्स पर अपनी पोस्ट में कहा, “अपने देश की सेवा करने पर गर्व है। संसद सदस्य के रूप में शपथ ले रहा हूँ।”

प्रधानमंत्री के उपरांत कांग्रेस सांसद कोडिकुन्निल सुरेश का नाम पुकारा गया लेकिन वह सदन में मौजूद नहीं थे। इसके बाद टीआर बालू का नाम प्रोटेम स्पीकर ने पुकारा लेकिन वह भी सदन में मौजूद नहीं थे।

फिर राधा मोहन सिंह को संसद सदस्य के रूप में शपथ दिलाई गई। इसके बाद फग्गन सिंह कुलस्ते ने संसद सदस्य के रूप में शपथ ली। इसके बाद केंद्रीय मंत्रियों को शपथ दिलाई गई जिनमें सबसे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शपथ ली।

राजनाथ सिंह के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, नितिन जयराम गडकरी, शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री व हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल, एचडी कुमारस्वामी, पीयूष गोयल ने संसद सदस्य के तौर पर शपथ ली।

पीयूष गोयल के बाद केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान संसद सदस्य के तौर पर शपथ लेने आए। इस दौरान विपक्ष के कई सांसदों ने ‘नीट नीट’ के नारे लगाए। इसके बाद जीतन राम मांझी, राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, सर्वानंद सोनवाल, डॉ वीरेंद्र कुमार, राम मोहन नायडू, प्रहलाद जोशी, जुएल ओरम, गिरिराज सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, भूपेंद्र यादव, चिराग पासवान, किरेन रिजिजू, चंद्रशेखर पेम्मसानी व अन्य मंत्रियों ने शपथ ली।