बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निर्माणाधीन योजनाओं का किया निरीक्षण

0
7

पटना, 9 जुलाई (आईएएनएस)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को बख्तियारपुर में विभिन्न जगहों पर चलाई जा रही विकास योजनाओं का निरीक्षण किया और अधिकारियों को तेजी से कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने सबसे पहले बख्तियारपुर प्रखंड के घनसुरपुर स्थित गंगा चैनल के प्रस्तावित लिंक का निरीक्षण किया। घनसुरपुर से सीढ़ी घाट होते हुए रामनगर तक गंगा नदी की धारा को घाट से लिंक करने की कार्य योजना के संबंध में अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी। घनसुरपुर में पुराने चैनल को मुख्य धारा से जोड़ा जाएगा। घनसुरपुर से सीढ़ी घाट होते हुए रामनगर तक कराए जाने वाले जीर्णोद्धार तथा सुरक्षात्मक कार्यों, पौधरोपण, पार्क निर्माण आदि के संबंध में भी मुख्यमंत्री को बताया गया।

इसके बाद मुख्यमंत्री ने बख्तियारपुर सीढ़ी घाट के पास निर्माणाधीन गंगा घाट एवं पाथ-वे का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरा यहां बचपन बीता है। मैं इसी घाट पर स्नान करता था। इस घाट पर लोग धार्मिक कार्य करते रहे हैं। इसका सौंदर्यीकरण और निर्माण कार्य बेहतर ढंग से करें ताकि यहां आने वाले लोगों को सुविधा हो।

इस दौरे के क्रम में उन्होंने श्रीराधा-कृष्ण मंदिर, ठाकुरबाड़ी, सीढ़ी घाट में पूजा-अर्चना कर राज्य की सुख-शांति की कामना की। मुख्यमंत्री ने पंडित शीलभद्र याजी मेमोरियल ट्रस्ट स्थित पंडित शीलभद्र याजीजी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी।

मुख्यमंत्री ने बख्तियारपुर स्थित गणेश हाईस्कूल विद्यालय भवन के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि निर्माण कार्य तेजी और बेहतर ढंग से पूर्ण करें। उन्होंने बख्तियारपुर सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का भी निरीक्षण किया और बटन दबाकर ट्रीटमेंट प्लांट की शुरुआत की।

बख्तियारपुर नगर निकाय के अंतर्गत आने वाले आठ नालों के पानी का इस सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में शोधन होगा। बख्तियारपुर इंजीनियरिंग कॉलेज से निकलने वाले सीवरेज के पानी का भी इस प्लांट में शोधन होगा। शोधित पानी को बगल में निर्मित पोखर में गिराया जाएगा, इससे जल संरक्षण भी होगा।

मुख्यमंत्री ने बख्तियारपुर इंजीनियरिंग कॉलेज के पास निर्माणाधीन रेलवे ओवर ब्रिज का भी निरीक्षण किया। इस मौके पर जल संसाधन मंत्री विजय कुमार चौधरी, सांसद संजय कुमार झा के अलावा कई वरिष्ठ अधिकारी भी मुख्यमंत्री के साथ रहे।