बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर सुगबुगाहट तेज

0
22

पटना, 12 मार्च (आईएएनएस)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विदेश दौरे से वापस लौटने के बाद प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर फिर से चर्चा तेज हो गई है। माना जा रहा है कि जल्द ही नीतीश कुमार अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे।

कहा जा रहा है कि विधान परिषद के द्विवार्षिक चुनाव की प्रक्रिया पूरी होने के बाद मंत्रिमंडल विस्तार किया जाएगा।

भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के उप मुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा ने भी मंगलवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि जल्द मंत्रिमंडल का विस्तार कर लिया जाएगा। इसमें कहीं किसी को कोई परेशानी नहीं है। वर्तमान में कई मंत्रियों के पास आधा-आधा दर्जन से अधिक विभाग का प्रभार है, जिससे काम प्रभावित हो रहा है।

बिहार में एनडीए सरकार बनने के बाद नीतीश कुमार सहित नौ मंत्रियों ने शपथ ली थी। मौजूदा मंत्रिमंडल में दो उपमुख्यमंत्री, सम्राट चौधरी और विजय कुमार सिन्हा, भाजपा से डॉ. प्रेम कुमार और जदयू से विजय कुमार चौधरी, बिजेंद्र प्रसाद यादव, श्रवण कुमार, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा से संतोष सुमन और निर्दलीय सुमित कुमार सिंह शामिल हैं।

नई सरकार गठन के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जल्द ही मंत्रिमंडल विस्तार की बात कही थी, लेकिन अब तक मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो सका है।

सूत्रों का दावा है कि अगले सप्ताह मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। मंत्रिमंडल विस्तार में जदयू कोटे से पुराने मंत्रियों को फिर से स्थान मिल सकता है। हालांकि, भाजपा कोटे से बनने वाले मंत्रियों में कई नए चेहरे भी देखने को मिल सकते हैं।