भाजपा के विकास के दावों की खुल गई पोल : सपा सांसद आदित्य यादव

0
9

लखनऊ, 11 जुलाई (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव के बाद उत्तर प्रदेश की 10 विधानसभा सीटें खाली हो गई हैं। अब इन सीटों पर उपचुनाव होना है। चुनाव आयोग ने अभी इसकी तारीख का ऐलान नहीं किया है, लेकिन तैयारियां शुरू हो गई हैं।

उपचुनाव के मद्देनजर भाजपा, समाजवादी पार्टी, बसपा समेत क्षेत्रीय दल भी सक्रिय हो गए हैं। मुख्य लड़ाई एनडीए और इंडी गठबंधन के बीच है। दोनों ही दल जीत का दावा कर रहे हैं। समाजवादी के टिकट पर बदायूं से सांसद आदित्य यादव ने कहा कि आगामी उपचुनाव में इंडी गठबंधन की ही विजय होगी।

भाजपा पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में निर्माण तो किया गया। परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन भी हुआ, लेकिन मानसून आते ही उनके विकास की पोल खुल गई। चाहे अयोध्या हो या वाराणसी को क्योटो बनाने का सपना, सभी धराशायी हो चुके हैं।

अयोध्या के अंदर जमीन की बिक्री को लेकर कई सारे घपले हुए हैं, इसलिए अयोध्या की जनता ने सपा के प्रत्याशी को जिताकर भाजपा को मुंहतोड़ जवाब दे दिया।

जिस तरह लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव और राहुल गांधी के बीच गठबंधन में निकटता बनी रही है, यह आगे भी विधानसभा उपचुनाव में निश्चित ही जारी रहेगा। हमें पूरा भरोसा है कि आगामी चुनाव में समाजवादी पार्टी और इंडी गठबंधन बड़े अंतर से जीत दर्ज करेगी।

योगी सरकार में कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही के दाल पर दिए गए बयान पर भी आदित्य यादव ने अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि सूर्य प्रताप ने दाल की कीमत 100 रुपये प्रति किलो बताकर आम जनता का मजाक उड़ाया है। जनता महंगाई से त्रस्त है और भाजपा इसका मजाक उड़ा रही है। वो बाजार में जाकर देखेंगे तो दाल 120 रुपये प्रति किलो से लेकर 160 रुपये प्रति किलो तक बिक रही है। ऐसे में गरीब व्यक्ति अपना पेट कैसे भर पाएगा ?

बता दें कि यूपी के गाजियाबाद, खैर मीरापुर, फूलपुर, मझवा, करहल, मिल्कीपुर, कटेहरी, कुंदरकी, और कानपुर की सीसामऊ सीटों पर उपचुनाव होना है।