Kharinews

संतोष चौबे केंद्रीय हिंदी शिक्षण मंडल के सदस्य नियुक्त, कहा हिंदी भाषा की सेवा अनवरत जारी रहेगी

Jul
31 2020

भोपाल: 31 जुलाई/ मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्चतर शिक्षा विभाग, नई दिल्ली ने केंद्रीय हिंदी शिक्षण मंडल का हाल ही में पुनर्गठन किया है। केंद्रीय हिंदी शिक्षण मंडल, केंद्रीय हिंदी संस्थान आगरा के शैक्षणिक एवं प्रशासनिक गतिविधियों का संचालन करता है। मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल 'निशंक' इसके पदेन अध्यक्ष हैं। इसके साथ ही देश के हिंदी जगत के प्रतिष्ठित विद्वानों को सदस्य बनाया गया है जिसमें मध्य प्रदेश से प्रसिद्ध शिक्षाविद, कवि और कहानीकार श्री संतोष चौबे शामिल हैं। श्री चौबे ने कहा कि ' मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा सदस्य बनाने से गौरवान्वित अनुभव कर रहा हूं। हमारे समूह के उच्च शिक्षण संस्थानों में हिंदी भाषा को प्राथमिकता दी जाती है। साहित्य, संस्कृति, शिक्षा और भाषा के बीच वैचारिक विमर्श होना चाहिए। हिंदी भाषा की सेवा अनवरत जारी रहेगी'। 

श्री चौबे हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार व उत्थान के लिए सतत् रूप से सक्रिय हैं। गत वर्ष उनकी परिकल्पना पर आधारित टैगोर अंतर्राष्ट्रीय साहित्य एवं कला महोत्सव विश्वरंग राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चर्चित रहा है। उसी दौरान देश के चार राज्यों से निकाली गई पुस्तक यात्रा ने शहरों, गांवों व कस्बों में हिंदी के प्रति जागरूकता बढ़ाने का कार्य किया। भारत की हिंदी कहानियों के विराट कोश 'कथादेश' और अविभाजित मध्यप्रदेश के कथाकारों की कहानियों का संग्रह 'कथा मध्यप्रदेश' का संपादन किया। उनके अनेक कथा संग्रह, उपन्यास, कविता संग्रह व अनुवाद का प्रकाशन हुआ है। जलतरंग उनका चर्चित उपन्यास है। साथ ही इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना तकनीक पर देश की विख्यात पत्रिका 'इलेक्ट्रोनिकी आपके लिये' का पिछले बत्तीस वर्षों से संपादन कर रहे हैं। उन्होनें हिन्दी में कंप्यूटर की पहली पुस्तक 'कंप्यूटर: एक परिचय' लिखी। उन्हें अनेक राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कारों और सम्मान से अलंकृत किया जा चुका है।

बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी श्री चौबे वर्तमान में रबिन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय के कुलाधिपति तथा आइसेक्ट नेटवर्क के अध्यक्ष हैं। इस अवसर पर आईसेक्ट के निदेशक श्री सिद्धार्थ चतुर्वेदी, रबिन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ ब्रह्मप्रकाश पेठिया, कुलसचिव डॉ विजय सिंह,  सहित विश्वविद्यालय, आईसेक्ट व वनमाली सृजन पीठ परिवार ने शुभकामनाएं दी हैं।

Related Articles

Comments

 

पंजाब : जहरीली शराब मामले में और 12 लोग गिरफ्तार

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive