संविधान सिर पर रखकर नाचने वाले लोग इसे जम्मू-कश्मीर में लागू नहीं करवा सके : पीएम मोदी

0
9

नई दिल्ली, 2 जुलाई (आईएएनएस)। लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद के मुद्दे पर अपनी प्रतिबद्धता दोहराई।

पीएम मोदी ने कहा कि आज का नया भारत घर में घुसकर आतंकियों को मारता है। देश की सुरक्षा के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। आतंकियों को उनकी जगह दिखाई जाएगी। देश का एक-एक नागरिक जानता है कि अपनी सुरक्षा के लिए भारत कुछ भी कर सकता है।

उन्होंने कहा कि संविधान सिर पर रखकर नाचने वाले लोग इसे जम्मू कश्मीर में लागू करने का साहस नहीं कर सकते थे। आज 370 की दीवार गिरी, पत्थरबाजी बंद है और लोग भारत के संविधान में भरोसा करते हुए बढ़-चढ़कर आगे आ रहे हैं। 140 करोड़ लोगों में ये विश्वास पैदा होना, इस विश्वास ने ड्राइविंग फोर्स का काम किया है। ये विश्वास विकसित भारत, संकल्प से सिद्धि का विश्वास है।

उन्होंने कहा कि अगर हम 2014 के उन दिनों को याद करें तो हमें एहसास होगा कि हमारे देश के लोगों ने अपना आत्मविश्वास खो दिया था। देश निराशा की गर्त में डूब गया था। ऐसे समय में, 2014 से पहले, देश को सबसे बड़ा नुकसान, देशवासियों के आत्मविश्वास का खोना हुआ था और जब विश्वास और आत्मविश्वास खो जाता है, तो व्यक्ति के लिए, समाज के लिए, देश के लिए, खड़ा होना मुश्किल हो जाता है।

उन्होंने आगे कहा कि भारत अब विश्व मंच पर सम्मानित है। हमारी सरकार ने देश और उसके लोगों को आत्मविश्वास हासिल करने में मदद की है। एक विकसित देश का मतलब है कि हर नागरिक के पास पर्याप्त अवसर उपलब्ध हैं।