सपा नेता फखरुल हसन ने राहुल गांधी के मणिपुर दौरे पर कहा, हम हमेशा आवाज उठाते रहेंगे

0
10

लखनऊ, 8 जुलाई (आईएएनएस)। सांसद राहुल गांधी मणिपुर दौरे पर हैं। इंडी गठबंधन में शामिल समाजवादी पार्टी ने इसे मणिपुर का दर्द बांटने की कोशिश बताया है। इसके साथ ही सपा प्रवक्ता फखरुल हसन चांद ने केंद्र सरकार से कुछ सवाल पूछे हैं।

आईएएनएस से बातचीत में सपा प्रवक्ता ने कहा, “मणिपुर पर कभी ध्यान नहीं दिया गया। मणिपुर के साथ ऐसा व्यवहार किया गया, जैसे वो इस देश का हिस्सा ही ना हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ना ही मणिपुर जाते हैं और ना ही उस पर कुछ बोलना चाहते हैं। उन्हें मणिपुर जाना चाहिए था। लोगों से मुलाकात करनी चाहिए थी, लेकिन उन्होंने हमेशा ही मणिपुर को नजरअंदाज किया। विपक्ष हमेशा उनसे यह सवाल करता रहेगा कि आप मणिपुर कब जाएंगे?”

उन्होंने भाजपा पर राजनीति करने का आरोप लगाया। कहा , “इंडी गठबंधन और समाजवादी पार्टी हमेशा से ही मणिपुर का मुद्दा उठाती रही है। चाहती है कि कैसे भी वहां के लोगों को इंसाफ मिले? उनके जख्मों पर मरहम लगाया जा सके लेकिन, अफसोस इस दिशा में बीजेपी ने अब तक कोई प्रयास नहीं किया। बीजेपी मणिपुर को लेकर केवल राजनीति करती आई है। मणिपुर को लेकर जो कदम उठाने चाहिए थे, वो कदम नहीं उठाए गए। विपक्ष के नेता हमेशा ही मणिपुर जाते रहे और वहां के मुद्दे को जोरशोर से उठाते रहे।“

उन्होंने राहुल की तारीफ करते हुए कहा, “राहुल गांधी फिर से मणिपुर जा रहे हैं। वहां के लोगों का दर्द सुन रहे हैं, लेकिन प्रधानमंत्री आज तक मणिपुर नहीं गए। पीएम मोदी ना ही मणिपुर जाना चाहते हैं और ना ही मणिपुर के लोगों की बात सुनना चाहते हैं। वो प्रधानमंत्री जैसे पद पर रहने के बावजूद भी पूर्वोत्तर के इस राज्य के साथ सौतला व्यवहार कर रहे हैं, लेकिन हम लगातार उनसे यही सवाल करते रहेंगे कि आप मणिपुर के लोगों का दर्द बांटने के लिए वहां कब जाएंगे?“

पीएम मोदी के रूस दौरे को लेकर पूछे गए सवाल पर भी सपा नेता ने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “विदेश यात्राएं एक अलग विषय है। प्रधानमंत्री के तौर पर आप जा सकते हैं। उस पर किसी को कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन जब देश में शांति स्थापित करने की बात आए, तो उसे प्रधानमंत्री को निभाना चाहिए।“

हसन ने राहुल गांधी के हाथरस हादसे के पीड़ित परिजनों की आर्थिक सहायता राशि बढ़ाने की मांग का समर्थन किया। उन्होंने कहा, “समाजवादी पार्टी शुरू से ही इस बात को दोहराती आई है कि हाथरस हादसे में जान गंवाने वाले लोगों को मिलने वाली आर्थिक सहायता की राशि को बढ़ाना चाहिए और वही बात कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पत्र के माध्यम से कही है। वहीं, सपा भी बीजेपी से मांग करती है कि मुआवजे की राशि को बढ़ाया जाए। हमारी एक और मांग है कि , हाथरस मामले में शामिल सभी आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।“