सूरत में इमारत ढहने से सात लोगों की मौत, बचाव अभियान जारी

0
6

सूरत, 7 जुलाई (आईएएनएस)। गुजरात के सूरत में शनिवार को छह मंजिला आवासीय इमारत ढह गई थी। रविवार सुबह तक मरने वालों की संख्या बढ़कर सात हो गई है।

सूरत के पुलिस उपायुक्त (जोन 6) राजेश परमार ने कहा, “एक महिला को बचा लिया गया है। सात शव बरामद किए गए हैं और उन्हें पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। अभी भी यह स्पष्ट नहीं है कि कितने लोग अभी भी मलबे में फंसे हुए हैं।”

अधिकारियों ने बताया कि घटनास्थल से बरामद किया गया पहला शव 25 वर्षीय एक व्यक्ति का था। बचाई गई महिला कशिश शर्मा (23) को न्यू सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी हालत स्थिर है।

पुलिस के मुताबिक, राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीमों ने रातभर बचाव अभियान जारी रखा, जो अभी भी जारी है।

पुलिस ने बताया कि यह घटना सचिन पाली गांव के डीएन नगर सोसायटी में शनिवार को दोपहर करीब 3 बजे हुई। छह मंजिला इमारत में कई कपड़ा मजदूर और उनके परिवार रहते थे।

सूरत पुलिस आयुक्त अनुपम गहलोत के अनुसार, इमारत के कुल 30 घरों में से लगभग पांच में लोग रहते थे। बताया जाता है कि उनमें से ज्यादातर सचिन जीआईडीसी की फैक्ट्रियों में काम करने वाले मजदूर थे जो वहां किराए पर रहते थे।

अनुपम गहलोत ने रविवार सुबह बताया कि एनडीआरएफ और स्थानीय अग्निशमन विभाग सहित बचाव दल मलबा हटा रहे हैं। अभी भी यह स्पष्ट नहीं है कि कितने लोग अभी भी फंसे हुए हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, इमारत का निर्माण 2017-18 में किया गया था। इसके जर्जर होने के चलते सूरत महानगर पालिका ने इसे खाली करने के आदेश भी दिए थे। इमारत में रहने वाले ज्यादातर लोगों ने इसे खाली कर दिया था, लेकिन अभी भी 5 से 6 परिवार वहां रह रहे थे। बताया जा रहा है कि इमारत का मालिक विदेश में रहता है।