हाथरस घटना : कांग्रेस नेता गुलाम अहमद ने प्रशासन पर उठाए सवाल

0
13

रांची, 3 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के हाथरस में मंगलवार को दर्दनाक घटना हुई। सत्संग के दौरान मची भगदड़ में अब तक 121 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घायलों से मुलाकात कर अधिकारियों को जांच के आदेश दिए हैं। वहीं इस पर अब राजनीति भी तेज हो गई है।

कांग्रेस के महासचिव और झारखंड प्रदेश प्रभारी गुलाम अहमद मीर ने यूपी में सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं। दिल्ली से रांची पहुंचे मीर ने मीडिया से कहा कि यह बेहद दुखद घटना है। इस तरह के कोई सार्वजनिक समारोह होते हैं तो प्रशासन को सुरक्षा के कड़े इंतजाम करने चाहिए। क्या उस जगह की क्षमता इतने लोगों के इकट्ठा होने की थी? इस कार्यक्रम में इतने लोगों की जान जाना बेहद दुखद है। कार्यक्रम से पहले प्रशासन को इस बात का ध्यान रखना चाहिए था कि लोगों की सुरक्षा के पूरे इंतजाम हुए हैं या नहीं। इस मामले की गंभीरता से जांच होनी चाहिए।

गुलाम अहमद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला किया। उन्होंने कहा कि एक तरफ देश में ऐसी घटना हुई, वहीं दूसरी ओर पीएम मोदी संसद में लंबे-लंबे भाषण दे रहे हैं।

बता दें, हाथरस की दुर्घटना पर मंगलवार को राज्यसभा में शोक व्यक्त करने के लिए मौन रखा गया। विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने हाथरस का मुद्दा उठाया। उन्होंने इस पर गृह मंत्री के बयान की भी मांग की।

रिपोर्ट्स के अनुसार हाथरस में सत्संग के दौरान हजारों की संख्या में लोग इकट्ठा हुए थे। जैसे ही कार्यक्रम खत्म हुआ भीड़ एक साथ बाहर निकली और पार्किंग की तरफ दौड़ी। जिसकी वजह से वहां भगदड़ मच गई। लोग एक-दूसरे के ऊपर चढ़ गए। गिरे हुए लोगों को भीड़ रौंदते हुए आगे निकल गई। इस कारण 121 लोगों ने अपनी जान गंवा दी, जिसमें महिलाओं की संख्या अधिक है।