हिंदुओं के देश में इस तरह की टिप्पणी अस्वीकार्य, राहुल गांधी मांगें माफी : महंत राजू दास

0
16

नई दिल्ली, 1 जुलाई (आईएएनएस)। लोकसभा में राष्ट्रपति अभिभाषण पर चर्चा के दौरान नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी की ओर से ‘हिंदू’ को लेकर दिये गए बयान के बाद संत समाज ने बड़ा हमला बोला है।

अयोध्या हनुमान गढ़ी के पुजारी महंत राजू दास ने कहा कि जिस प्रकार से राहुल गांधी ने हिंदू समाज को हिंसक कहा, हम उसकी निंदा और घोर विरोध करते हैं। उनका बयान दुखद और हिंदू समाज को आहत करने वाला है। राहुल गांधी अगर हिंदू समाज के लोगों के साथ उठते, बैठते और संवाद करते तो वो सनातन धर्म के बारे में जानते। लेकिन वो तो उनके साथ नहीं बैठते, तभी तो वो हिंदू समाज को हिंसक कह रहे हैं। राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए।

उन्होंने आगे कहा, हिंदू नेताओं से निवेदन करता हूं कि अगर वो अपने आप को हिंदू मानते हैं तो राहुल गांधी के इस बयान की निंदा करें। विपक्ष के हिंदू सांसद सदन से मांग करें कि जब तक राहुल गांधी माफी नहीं मांग लेते, तब तक उन्हें बोलने की अनुमति न दी जाए। लोकतंत्र के मंदिर में हिंदुओं और बहुसंख्यकों के देश में इस तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी अस्वीकार्य है।

वहीं काशी के संतों ने राहुल गांधी के हिंदू वाले बयान का विरोध किया है। अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी का विचार हिंदू विरोधी है। हिंदू शांत रहता है लेकिन समय आने पर उसको जवाब देना आता है। सनातन धर्मावलंबियों को हिंसक कहना घोर निंदनीय है। राहुल गांधी के हिंदू विरोधी रुख से पूरा देश परिचित है। जम्मू कश्मीर में हिंदुओं की हत्या, मां बहनों के साथ अत्याचार, केरल और बंगाल में हिंदुओं की हत्या पर चुप रहने वाली कांग्रेस पार्टी से हम अपेक्षा नहीं करते कि वो हिंदू हितों की बात करे।

दरअसल, राहुल गांधी ने कहा कि जो लोग अपने आप को हिंदू कहते हैं, वह 24 घंटे हिंसा, हिंसा, हिंसा; नफरत, नफरत, नफरत, असत्य, असत्य, असत्य करते रहते हैं। ये हिंदू हैं ही नहीं। आप हिंदू हो ही नहीं सकते। हिंदू धर्म में साफ लिखा है कि सत्य के साथ खड़ा होना चाहिए। सत्य से पीछे नहीं हटना चाहिए।

पीएम मोदी ने राहुल के बयानों पर पलटवार करते हुए कहा कि इस संविधान ने मुझे सिखाया है कि मुझे विपक्ष के नेता को गंभीरता से लेना चाहिए। पूरे हिंदू समाज को हिंसक कहना गंभीर बात है।

इस पर राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी और बीजेपी पूरा हिंदू समाज नहीं है। आरएसएस पूरा हिंदू समाज नहीं है। मैंने भाजपा को हिंसक कहा। भाजपा पूरा हिंदू समाज नहीं है।