Kharinews

सुशांत डिप्रेशन में नहीं जा सकते, पूर्व कुक अशोक का बयान

Aug
12 2020

नई दिल्ली, 12 अगस्त (आईएएनएस)। सुशांत सिंह राजपूत अब इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन उनसे काफी करीब से जुड़े लोग उनकी संदेहास्पद मौत के दो महीने बाद भी सनसनीखेज खुलासे कर रहे हैं। इसी तरह का एक खुलासा सुशांत के पूर्व कुक (रसोइए) अशोक कुमार खासू ने किया है। खासू का कहना है कि भैया (सुशांत) के डिप्रेशन में जाने की बात उन्होंने कभी नहीं सुनी।

नेपाल के लुम्बीनी के निवासी अशोक तीन साल (2016-2019) तक सुशांत के साथ रहे। यही नहीं रिया चक्रवर्ती के सुशांत के जीवन में आने के बाद भी वह पांच महीनों तक सुशांत के कुक रहे। अशोक 2016 से 2019 तक जॉगर्स पार्क स्थित लिटिल हाइट्स अपार्टमेंट और कैप्री हाइट्स अपार्टमेंट में सुशांत के साथ रहे।

अशोक ने आईएएनएस से खास बातचीत में कहा कि सुशांत सिंह राजपूत जैसा सख्त कभी डिप्रेशन में जा ही नहीं सकता क्योंकि वह बिंदास थे। अशोक ने कहा, भैया कभी डिप्रेशन में जा ही नहीं सकते। वह इन चीजों से दूर थे। और उनके डिप्रेशन में जाने की बात तो अब सामने आ रही है। मैंने तो ऐसा कभी नहीं सुना। तीन साल तक मैं परछाई की तरह उनके साथ रहा लेकिन मैंने कभी इस तरह का कुछ महसूस नहीं किया। इसमें जरूर कुछ गड़बड़ है।

तीन साल तक सुशांत के खाने पीने का ख्याल रखने वाले अशोक ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया कि यूरोप टूर के बाद भैया काफी बदल गए थे। अशोक ने कहा, भैया और रिया अक्टूबर 2019 के पहले सप्ताह में यूरोप टूर पर गए थे। वे 28 अक्टूबर को लौटे थे। लौटने के बाद वह काफी बदल गए थे। तब मैं उनके साथ नहीं था लेकिन उनका केयर करने वाला नीरज और उनका नया कुक (जिसे रिया ने रखा था) केशव ने बताया कि साहब काफी बदल गए हैं और पहले की तरह जॉली नहीं रह गए हैं।

अशोक ने यह भी कहा कि इस दौरान उन्होंने सुशांत से फोन पर कई बार सम्पर्क करने की कोशिश की लेकिन सुशांत ने जवाब नहीं दिया। इसके बाद दिसम्बर-2019 में वह सुशांत की बहन मीतू और प्रियंका के साथ उनसे मिलने जब उनके घर पहुंचे तो सुशांत ने मिलने से इंकार कर दिया।

अशोक ने कहा, यह बड़ा हैरान करने वाला था। सुशांत सर की अपनी बहनों के साथ जिस तरह का रिश्ता था, उसको देखते हुए मैं काफी हैरान था। मीतू दीदी तो रोने लगी थीं। सुशांत सर को जब मीतू दीदी ने मैसेज किया कि भाई हम मुम्बई में हैं और तुमसे मिलना चाहते हैं तो उन्होंने मैसेज का जवाब मैसेज से ही दिया और कहा कि अभी मैं मीटिंग में व्यस्त हूं और मिल नहीं सकता। जबकि उस समय सुशांत सर के पास कोई भी नया प्रोजेक्ट नहीं था। दिल बेचारा पूरा हो चुका था और आगे किसी प्रोजेक्ट पर काम नहीं चल रहा था।

अशोक ने बताया कि प्रिंयका ने हालांकि जनवरी में सुशांत सर से मुलाकात की थी क्योंकि वह मुम्बई आकर उनके पास लम्बे समय तक रहा करती थीं लेकिन रिया मैडम के उनकी जिंदगी में आने के बाद यह सिलसिला कम हो गया था।

अशोक ने यह भी कहा कि सुशांत सर के मामले में जितने भी लोग सामने आकर मीडिया के सामने बयान दे रहे हैं, उनमें से अधिकांश लोग झूठ बोल रहे हैं। इनमें से किसी को सच पता नहीं और जिन लोगों को कुछ पता है वे किसी को बता नहीं रहे हैं।

अशोक से जब यह पूछा गया कि क्या मुम्बई पुलिस और पटना पुलिस ने उनका भी बयान दर्ज किया है तो उन्होंने कहा, हां, किया है। मुम्बई पुलिस ने दो बार बयान दर्ज किया है और पटना पुलिस ने 10 मिनट बात की थी। मुम्बई पुलिस ने तो एक बार मुझे अपना बयान फिर से देने के लिए बुलाया था जबकि मैं पहले ही सबकुछ साफ-साफ बता चुका था।

--आईएएनएस

जेएनएस-एसकेपी

Related Articles

Comments

 

बिहार विधानसभा चुनाव में सपा करेगी राजद का समर्थन

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive