Kharinews

स्टार्टअप डेवलपर प्लेटफॉर्म के लिए गिटहब अब भारत में उपलब्ध

Sep
27 2022

बेंगलुरु, 27 सितंबर (आईएएनएस)। ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट प्लेटफॉर्म गिटहब ने मंगलवार को कहा कि उसने स्टार्टअप इकोसिस्टम को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए भारत में अपना डेवलपर प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराया है।

भारत में और विश्व स्तर पर योग्य स्टार्टअप को एक वर्ष के लिए गिटहब एंटरप्राइज की 20 सीटें मुफ्त मिलेंगी, जिसमें गिटहब तकनीकी विशेषज्ञों का समर्थन और मार्गदर्शन शामिल है।

गिटहब के सीईओ थॉमस दोहमके ने कहा, दुनिया के डेवलपर्स के लिए घर के रूप में यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम उद्यमियों को हमारे संपूर्ण डेवलपर प्लेटफॉर्म तक पहुंच प्रदान करें, ताकि कोई भी तेजी से और सुरक्षित रूप से अपनी आकांक्षाओं को कल के अगले महान स्टार्टअप में बदल सके।

माइक्रोसॉफ्ट के स्वामित्व वाले गिटहब के भारत में 72 लाख से अधिक डेवलपर्स हैं और वैश्विक स्तर पर 8.3 करोड़ से अधिक हैं।

गिटहब ने दुनिया के कुछ प्रमुख उद्यम पूंजी, त्वरक और स्टार्टअप समर्थन संगठनों के साथ साझेदारी की है, ताकि वे अपने पारिस्थितिकी तंत्र में स्टार्टअप को अपना डेवलपर प्लेटफॉर्म प्रदान कर सकें।

स्टार्टअप वाहन के संस्थापक और सीईओ माधव कृष्णा ने कहा, स्टार्टअप्स के लिए गिटहब सबसे अच्छा विंगमैन है, जिसे एक इंजीनियरिंग प्रबंधक मांग सकता है। इसके शक्तिशाली सीआई/सीडी टूल ने अनगिनत घंटों की बचत करते हुए लाइनिंग, परीक्षण और प्रकाशन जैसे कार्यो को स्वचालित करने में हमारी मदद की।

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर रिपॉजिटरी गिटहब ने हाल ही में घोषणा की थी कि 2023 के अंत तक सभी उपयोगकर्ताओं को दो-कारक प्रमाणीकरण (2एफए) के एक या अधिक रूपों को सक्षम करने की जरूरत होगी।

--आईएएनएस

एसकेके/एसजीके

Related Articles

Comments

 

चीन-लाओस रेलवे ने एक प्रभावशाली रिपोर्ट कार्ड सौंपा : चीनी विदेश मंत्रालय

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive