आईआईटी मंडी ने बनाया एआई योगा मैट, सही आसन करने में करेगा मदद

0
12

नई दिल्ली, 22 जून (आईएएनएस)। आईआईटी मंडी से जुड़े एक स्टार्टअप ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) से लैस एक योगा मैट बनाया है। इस मैट को ‘योगीफाई’ नाम दिया गया है और कई केंद्रीय मंत्रियों को गिफ्ट भी किया गया है।

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से ‘योगीफाई’ मैट को विदेश मंत्री (ईएएम) एस. जयशंकर, रेलवे, सूचना एवं प्रसारण और आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और अन्य केंद्रीय मंत्रियों को भेजा गया है।

मंत्रालय के अनुसार, यह मैट घर पर योग के अनुभव को बेहतर बनाएगा। इसमें कंफर्टेबल योगा प्रैक्टिस के लिए एआई और कंप्यूटर विजन (सीवी) टेक्नोलॉजी का फायदा मिलेगा।

मैट एक बिल्ट-इन इनोवेटिव सेंसर लेयर से लैस है, जो योग करने वालों के आसनों को ट्रैक करता है और उन आसनों को सही करने में मदद करने के लिए सुझाव देता है।

इसे वेलनेसिस टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड ने बनाया है, जिसे आईआईटी मंडी के टेक्नोलॉजी इनोवेशन हब (टीआईएच) आईहब में इनक्यूबेट किया गया है और डीएसटी के एनएम-आईसीपीएस प्रोग्राम के तहत समर्थित किया गया है।

मंत्रालय के अनुसार, यह मैट पूरी तरह से स्वदेशी है। इसके कई लाभ हैं।

इनमें योगासन ट्रेनिंग, इंटरैक्टिव योगा क्लासेस, रियल-टाइम फीडबैक और दुनिया भर में कहीं भी, कभी भी पर्सनलाइज कोचिंग की सुविधा शामिल हैं।

‘योगीफाई’ स्मार्ट मैट घर पर अन्य स्मार्ट डिवाइस के साथ सहजता से काम करता है, ताकि योग करने के लिए सही माहौल तैयार किया जा सके।