महाराष्ट्र कैबिनेट ने अयोध्या में राज्य गेस्टहाउस के निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण के लिए 67.14 करोड़ रुपये को मंजूरी दी

0
20

मुंबई, 11 मार्च (आईएएनएस)। महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने सोमवार को अयोध्या में राज्य अतिथिगृह के निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण के लिए 67.14 करोड़ रुपये की मंजूरी दे दी।

इससे पहले, उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने 2024-25 के अंतरिम बजट में अयोध्या और श्रीनगर में महाराष्ट्र राज्य अतिथिगृह के निर्माण की घोषणा की थी। उनके पास योजना और वित्त विभाग भी हैं।

सरकार ने पहले ही अयोध्या में ग्रीनफील्ड टाउनशिप शाहनेवाजपुर माझा में 9,420.55 वर्ग मीटर का प्लॉट फाइनल कर लिया है। यह गेस्टहाउस राम मंदिर के दर्शन के लिए अयोध्या आने वाले महाराष्ट्र के भक्तों और पर्यटकों के लाभ के लिए होगा।

लोक निर्माण विभाग द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारी द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट के अनुसार, प्रस्तावित भूमि सरकारी गेस्टहाउस के निर्माण के लिए काफी उपयुक्त है और इसकी खरीद शीघ्र ही की जाएगी।

प्लॉट की कीमत 67.14 करोड़ रुपये (60,261.60 रुपये प्रति वर्ग मीटर) है।

सरकार बजटीय प्रावधान से जमीन खरीद के लिए पैसा खर्च करेगी। जमीन के सीमांकन के लिए सरकार को शुरुआत में 6 करोड़ रुपये टोकन मनी के तौर पर देने होंगे।

प्रस्तावित भूमि श्री रामजन्मभूमि मंदिर से 7.5 किमी दूर और सरयू नदी से लगभग 15 किमी दूर है।

लोक निर्माण विभाग ने कहा कि यह भूमि रणनीतिक रूप से स्थित है, क्योंकि एनएच 27 गोरखपुर लखनऊ 0.25 किमी से गुजरता है, जबकि अयोध्या रेलवे स्टेशन 4.5 किमी दूर है।

महर्षि वाल्‍मीकि अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा महाराष्ट्र सदन के लिए निर्धारित प्रस्तावित भूमि से केवल 11.5 किमी दूर है।

ऐसे समय में जब जब सत्तारूढ़ दल भाजपा, शिवसेना और एनसीपी इस साल जनवरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राम मंदिर के उद्घाटन को भुनाना चाहती हैं, महायुति सरकार का यह कदम विशेष रूप से महत्वपूर्ण है।