Kharinews

क्रिकेट जगत ने की हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म एवं हत्या की निंदा

Dec
03 2019

नई दिल्ली, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)। हैदराबाद के शम्साबाद इलाके में 27 नवंबर को जानवरों की महिला डॉक्टर के साथ चार लोगों द्वारा किए गए सामूहिक दुष्कर्म एवं हत्या मामले की पूरे क्रिकेट जगत ने निंदा की है।

पुलिस के मुताबिक, दुष्कर्म के चार आरोपियों ने पहले पीड़िता के स्कूटर को पंक्चर किया और फिर उसकी मदद करने की स्थिति पैदा की और फिर इसके बाद उसे टोल प्लाजा के पास एकांत इलाके में ले गए, जहां दुष्कर्म को अंजाम दिया और फिर उसकी हत्या कर दी।

इस मामले पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने ट्वीट पर लिखा, हैदराबाद में जो हुआ वो बेहद शर्मनाक है। अब समय आ गया है कि हम एक समाज के तौर पर जिम्मेदारी लें और इस तरह की गैरमानवीय हरकतों को खत्म करें।

कोहली की टीम के साथी शिखर धवन ने लिखा, यह बेद दर्दनाक खबर है.. इसे सुनकर हैरान और परेशान हूं। गलत करने वालों को सजा मिलनी ही चाहिए। पीड़िता के परिवार और दोस्तों के साथ मेरी संवेदनाएं।

ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने इस पर कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ध्यान देना को कहा। उन्होंने लिखा, हम सभी को शर्म आनी चाहिए कि हम लगातार इस तरह की चीजें बार-बार होने दे रहे हैं लेकिन कुछ बदल नहीं रहा है।

उन्होंने लिखा, इस तरह के अपराधों को लेकर हम कोई ठोस नीति क्यों नहीं बनाते हैं और पूरे शहर के सामने उन्हें फांसी क्यों नहीं देते हैं। नरेंद्र मोदी सर आपका ध्यान इस पर चाहिए।

लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने भी इस घटना पर अफसोस जताया है, जो हुआ उसे सुनकर मैं बेहद परेशान हूं। हत्यारों और दुष्कर्मियो को इस जघन्य अपराध के लिए कड़ी सजा दी जानी चाहिए।

हैदराबाद के ही आने वाले वीवीएस. लक्ष्मण ने लिखा, यह समय है जब दोषियों को सजा दी जाए और उनके प्रति किसी तरह की नर्मी न बरती जाए। भारतीय सरकार और नरेंद्र मोदी जी से इस पर सख्त कदम लीए जाने की उम्मीद।

दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने पास के पेट्रोल पंप से पेट्रोल खरीदा और पीड़िता को हैदरबाद-बेंगलुरू नेशनल हाईवे पर जला दिया।

बाद में सभी चारों आरोपियों को 29 नवंबर को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया गया और 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

--आईएएनएस

Related Articles

Comments

 

किशोरियों का गर्भवती हो जाना चिंता की बात : हर्षवर्धन

Read Full Article
0

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive