Kharinews

आईपीएल-13 : दिल्ली कैपिटल्स के लिए प्लेऑफ में पहुंचना लक्ष्य (प्रीव्यू)

Oct
30 2020

दुबई, 30 अक्टूबर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। चेन्नई सुपर किंग्स को गुरुवार को मिली जीत के साथ मुंबई इंडियंस का इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के प्लेऑफ में स्थान पक्का हो गया है। अब शनिवार को मुंबई, दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ उतरेगी और दिल्ली का लक्ष्य भी प्लेऑफ में पहुंचना होगा।

दिल्ली के 12 मैचों में 14 अंक हैं। मुंबई को मात दे उसके 16 अंक हो जाएंगे और वह भी लगभग प्लेऑफ में जगह बना लेगी।

प्लेऑफ में भी जगह बनाने के बावजूद मुंबई इस मैच को हल्के में नहीं लेगी क्योंकि उसकी कोशिश शीर्ष-2 में रहते हुए लीग दौर का अंत करने को होगी। इससे फायदा यह होगा कि अगर वह प्लेऑफ में क्वालीफायर-1 में हार भी जाती है, तो उसे फिर क्वालीफायर-2 में खेलने का मौका मिलेगा, जिसे जीत वह फाइनल में जा सकती है।

आईपीएल में हर टीम की कोशिश होती है को वह शीर्ष-2 में रहते हुए लीग चरण का अंत करे और दिल्ली भी इसी फिराक में होगी। लेकिन कितना सफल रहती है, यह अंत में पता चलेगा।

मुंबई ने बीते तीन मैच बिना रोहित शर्मा के खेले हैं। उनकी जगह कीरन पोलार्ड ने शानदार कप्तानी की है और बाकी बल्लेबाजों ने रोहित की कमी महसूस नहीं होने दी है, खासकर ईशान किशन और सूर्यकुमार यादव ने। सूर्यकुमार ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ जो पारी खेली थी उसने सूर्यकुमार को एक अलग जगह खड़ा कर दिया है।

वह लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और रोहित के जाने के बाद जिम्मेदारी उन्होंने अपने कंधों पर ले ली है। ईशान को रोहित की गैर मौजूदगी में क्विंटन डी कॉक के साथ पारी की शुरूआत के लिए भेजा जा रहा है। यह युवा बल्लेबाज इसमें भी खरा उतरा है।

हार्दिक पांड्या ने भी अपना रोद्र रूप दिखाया है। पोलार्ड और पांड्या के भाई क्रूणाल भी रन बना रहे हैं। लेकिन क्या दिल्ली की मजबूत गेंदबाजी के सामने यह सभी अपनी फॉर्म को जारी रख पाएंगे, वो भी तब जब दिल्ली प्लेऑफ में जाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंकने के लिए तैयार है।

दिल्ली की गेंदबाजी ही नहीं बल्लेबाजी भी मजबूत है, लेकिन पिछले कुछ मैचों में उसके लिए कुछ भी अच्छा नहीं रहा है। उसे सिर्फ हार ही मिली है। इसलिए अब जीत के रास्ते पर वापसी करना उसके लिए बेहद जरूरी हो गया है।

सभी खिलाड़ी टूर्नामेंट के आखिरी दौर की जरूरत को जानते हैं। इसलिए दिल्ली एक जख्मी शेर की भांती हो गई है जो बेहद खतरनाक है।

पृथ्वी शॉ का टीम में लौटना जरूरी हो गया है। शिखर धवन के साथ उनकी जोड़ी ने दिल्ली को अच्छी शुरूआतें दी हैं। मध्य क्रम से लेकर सलामी बल्लेबाज तक अपनाए जाने वाले अजिंक्य रहाणे इस सीजन चल ही नहीं रहे हैं। बल्लेबाजी में टीम धवन, कप्तान श्रेयस अय्यर, मार्कस स्टोयनिस, ऋषभ पंत और शिमरन हेटमायेर पर निर्भर है।

गेंदबाजी में कैगिसो रबादा, तुषार देशपांडे और एनरिक नॉर्खिया पर मुंबई के तूफानी आक्रमण को रोकने की जि़म्मेदारी होगी। रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल की स्पिन जोड़ी मुंबई के बल्लेबाजों को परेशान कर सकती है।

मुंबई का गेंदबाजी आक्रामण भी काफी मजबूत है। जसप्रीत बुमराह, ट्रेंट बोल्ट और पैट कमिंस पूरी तैयारी से दिल्ली के बल्लेबाजों को रोकने उतरेंगे। इन सभी के अलावा, लेग स्पिनर राहुल चहर भी दिल्ली के बल्लेबाजों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

टीमें (सम्भावित:)

दिल्ली कैपिटल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, एलेक्स कैरी, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिखर धवन, शिमरन हेटमायेर, अक्षर पटेल, ललित यादव, मार्कस स्टोयनिस, कीमो पॉल, आवेश खान, हर्षल पटेल, कैगिसो रबादा, मोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, संदीप लामिछाने, एनरिक नॉर्खिया, तुषार देशपांडे।

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), आदित्य तारे (विकेटकीपर), अनमोलप्रीत सिंह, अनुकूल रॉय, क्रिस लिन, धवल कुलकर्णी, दिग्विजय देशमुख, हार्दिक पांड्या, ईशान किशन, जेम्स पैटिनसन, जसप्रीत बुमराह, जयंत यादव, कीरन पोलार्ड, क्रूणाल पांड्या, मिशेल मैक्लेंघन, मोहसिन खान, नाथन कुल्टर नाइल, प्रिंस बलवंत राय, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), राहुल चहर, सौरभ तिवारी, शेरफाने रदरफोर्ड, सूर्यकुमार यादव, ट्रेंट बोल्ट।

--आईएएनएस

ईजेडए/जेएनएस

Category
Share

Related Articles

Comments

 

बाइडेन का अमेरिकियों से आग्रह - थैंक्सगिविंग पर मिलने से बचें, वैक्सीन का इंतजार करें

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive