Kharinews

पीकेएल-7 : कप्तान मनिंदर के बगैर ही मुम्बा को सेमीफाइनल में चुनौती देगा बंगाल (प्रीव्यू)

Oct
15 2019

अहमदाबाद, 15 अक्टूबर (आईएएनएस)। बंगाल वॉरियर्स टीम प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के सातवें सीजन में बुधवार को यहां ट्रांसस्टेडिया स्थित ईका एरेना स्टेडियम में होने वाले दूसरे सेमीफाइनल मैच में अपने कप्तान मनिंदर सिंह के बिना ही 2015 की चैंपियन यू-मुम्बा के खिलाफ मैट पर उतरेगी।

मनिंदर को पंचकूला लेग के दौरान दबंग दिल्ली के खिलाफ चोट लग गई थी और वह तभी से ही टीम से बाहर चल रहे हैं। मनिंदर ने उस मैच में सुपर-10 लगाया था। यू-मुम्बा ने प्लेऑफ के एलिमिनटेर-2 में हरियाणा स्टीलर्स को हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया है जबकि बंगाल वॉरियर्स ग्रुप-चरण में दूसरे स्थान पर रहने के कारण सीधे सेमीफाइनल में पहुंची है।

बंगाल वॉरियर्स के कोच बीसी रमेश का कहना है कि मनिंदर की गैर मौजूदगी से टीम पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि उनके पास बैकअप है।

रमेश ने मैच की पूर्वसंध्या पर कहा, मनिंदर की गैर मौजूदगी से टीम पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि हमारे पास बैकअप है। इसके अलावा बलदेव और रिंकू डिफेंस में अच्छा कर रहे हैं। साथ ही के. प्ररापंजन, साकेश हेगडे और मोहम्मद नबीबक्श भी टीम के लिए बेहतर कर रहे हैं।

यू-मुम्बा की टीम पिछले पांच मैचों से अपराजित चल रही है। बंगाल वॉरियर्स ने इस सीजन में 14 मैच जीते हैं और पांच हारे हैं जबकि तीन टाई खेले हैं।

मनिंदर इस सीजन में 200 रेड प्वाइंटस लिए हैं। मनिंदर को इस सीजन में के परापंजन और मोहम्मद नबीबक्श तथा सुकेश हेगड़े से अच्छा सहयोग मिला है। इन तीनों रेडरों ने मिलकर इस सीजन में 75 से अधिक रेड प्वाइंटस लिए हैं।

दूसरी तरफ यू-मुम्बा के कोच संजीव कुमार कहना है कि उनकी टीम के खिलाड़ी बंगाल को रोकने लिए काफी हैं।

उन्होंने कहा, यू-मुम्बा के लिए अभिषेक, अर्जुन देशवाल और खुद फजल अतराचली ने पिछले मैच में हरियाणा स्टीलर्स के खिलाफ अच्छा किया है। प्लेऑफ में किए गए प्रदर्शन से इन खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ा हुआ है और मुझे उम्मीद है कि हम बंगाल के खिलाफ इसी तरह का प्रदर्शन दोहराएंगे।

कोच ने कहा, बंगाल की टीम काफी अनुभवी है और उनके रेडर और डिफेंडर काफी अच्छा खेल रहे हैं। इसलिए मेरा मानना है कि हमारे खिलाड़ी भी इस मैच को लेकर उत्साहित हैं और ऐसे में यह एक अच्छा मुकाबला होगा।

--आईएएनएस

Category
Share

Related Articles

Comments

 

अमेरिका में अमीरों व गरीबों की खाई से मानवाधिकार की स्थिति बिगड़ी

Read Full Article

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive