Kharinews

फुटबाल दिल्ली ने अकादमी एक्रीडिटेश्न एवं लाइसेंसिंग सिस्टम लॉन्च किया

Nov
19 2019

नई दिल्ली, 19 नवंबर (आईएएनएस)। फुटबाल सेटअप को अधिक से अधिक पेशेवर बनाने और दिल्ली-एनसीआर रीजन में हर एक स्टेकहोल्डर तक अपनी पहुंच बनाने के लिए फुटबाल दिल्ली ने मंगलवार को अकादमी एक्रीडिटेश्न एवं लाइसेंसिंग सिस्टम लॉन्च किया। ऐसा करने वाले फुटबाल दिल्ली पहला राज्य स्तरीय फुटबाल एसोसिएशन बन गया है।

फुटबाल दिल्ली अपनी नई पहलों से दिल्ली-एनसीआर के हर एक स्कूल एवं एनजीओ द्वारा संचालित फुटबाल ट्रेनिंग सेंटर्स तक अपनी पहुंच बनाना चाहता है और उसका यह पहल यह सुनिश्चित करेगा कि उसकी पहुंच शहर के छोटे से छोटे अकादमी तक हो जाए।

23 नवम्बर से अकादमी एक्रीडिटेश्न एवं लाइसेंसिंग सिस्टम काम करना शुरू कर देगा। इस सम्बंध में विशेष जानकारी फुटबाल दिल्ली की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दी गई है। अकादमियों को लाइसेंस देने के लिए ट्रांसपेरेंट और संक्षिप्त क्राइटेरिया रखी गई है। इस पहल का लक्ष्य हर एक अकादमी को दिल्ली में फुटबाल संरचना में शामिल करना है।

लाइसेंसिंग सिस्टम को लेकर कड़ाई बरती जाएगी क्योंकि फुटबाल दिल्ली चाहता है कि लाइसेंसिंग का स्टैंडर्ड बना रहे और बॉटम-अप अप्रोच के साथ एक पेशेवर सेटअप बनाया जा सके। ऐसे में जबकि अकादमियां एक्रीडिटेशन के लिए ऑनलाइन फार्म भरने के लिए योग्य होंगी, फुटबाल दिल्ली के अधिकारियों द्वारा अकादमियों में जाकर दस्तावेंजो और सुविधाओं की जांच के बाद यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

फुटबाल दिल्ली के प्रमुख साजी प्रभाकरण ने कहा, अकादमी एक्रीडिटेशन एवं लाइसेंसिंग सिस्टम के साथ हम अकादमियों को दिल्ली फुटबाल संरचना का अभिन्न अंग बनाने का प्रयास कर रहे हैं। इस सम्बंध में सारी जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध है। इसके अलावा अकादमियां सीधे हमसे भी सम्पर्क कर सकती हैं। हमारे रिव्यूअर अकादमियों को इवैलुएट और मॉनिटर करेंगे। अगर वे हमारे प्रोटोकॉल पर खरे उतरेंगे तो उन्हें तत्काल एक्रीडिटेशन और लाइसेंस दी जाएगी। हालांकि अगर वे फेल हो जाते हैं तो जरूरी क्राइटेरिया को पूरा करने की दिशा में उनकी मदद की जाएगी।

साजी ने आगे कहा, हमारा लक्ष्य सेग्रीगेट करना नहीं बल्कि इंट्रीगेट करना है, जिससे कि फुटबाल हर अकादमी तक पहुंचे और वह विकास की इस प्रक्रिया में बराबर रूप से हमारा साझेदार बन सके।

एक बार शुरू होने के बाद यह सिस्टम पेरेंट्स को भी अपने बच्चों के लिए अकादमी तलाशने में मदद करेगा। अकादमियों को ट्रांसपेरेंट आधार पर रेटिंग्स दिए जाएंगे और इसी आधार पर परिजन इनका चयन कर सकते हैं।

लाइसेंट और स्टार रेटिंग्स के तीन कटेगरी होंगे। इसके लिए 1 से 3 तक की स्टार रेटिंग होगी। स्टार 3 रेटिंग का मतलब यह है कि ये अकादमियां दिल्ली में बेस्ट हैं और ये कोचिंग स्टाफ, फेसिलिटी, मेडिकल और सेफ्टी, चाइल्ड प्रोटेक्शन पॉलिसी, कैलेंडर ऑफ एक्टीविटी, प्रोग्राम, जेंटर इक्वेलिटी के लिहाज से तय मानकों का पालन करती हैं। साथ ही इन अकादमियों का दिल्ली के फुटबाल क्लबों के साथ लिंक है।

--आईएएनएस

Category
Share

Related Articles

Comments

 

नित्यानंद मामला : इक्वाडोर का शरण देने से इनकार, विदेश मंत्रालय ने पासपोर्ट रद्द किया (लीड-1)

Read Full Article
0

Subscribe To Our Mailing List

Your e-mail will be secure with us.
We will not share your information with anyone !

Archive