अमित शाह और जेपी नड्डा की बैठक, सरकार गठन को लेकर विचार-मंथन

0
8

नई दिल्ली, 8 जून (आईएएनएस)। नरेंद्र मोदी रविवार को शाम 7:15 बजे राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू नरेंद्र मोदी को पीएम पद की शपथ दिलाएंगी। उनके साथ ही उनके कई मंत्रियों के भी पद और गोपनीयता की शपथ लेने की संभावना है।

सरकार गठन के स्वरूप और मंत्रिमंडल गठन को लेकर भाजपा में विचार-विमर्श और बैठकों का दौर लगातार जारी है। भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह के आवास पर शाह और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की एक महत्वपूर्ण बैठक चल रही है।

आपको बता दें कि इससे एक दिन पहले शुक्रवार को जेपी नड्डा के आवास पर कई राउंड की मैराथन बैठक हुई थी। शुक्रवार की मैराथन बैठक में जेपी नड्डा, अमित शाह और राजनाथ सिंह ने एनडीए के सहयोगी दलों के नेताओं के साथ अलग-अलग बैठक कर मंत्रिमंडल के गठन को लेकर विचार-विमर्श किया था।

बताया जा रहा है कि जेपी नड्डा, अमित शाह और राजनाथ सिंह के साथ मुलाकात के दौरान शुक्रवार को टीडीपी मुखिया चंद्रबाबू नायडू, बिहार के मुख्यमंत्री एवं जेडीयू प्रमुख नीतीश कुमार, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एवं शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे, आरएलडी के जयंत चौधरी, एनसीपी के अजित पवार, जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी, लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के मुखिया चिराग पासवान सहित कई अन्य सहयोगी दलों के नेताओं ने सरकार गठन को लेकर अपने-अपने सुझाव दे दिए हैं।

चूंकि रविवार को एनडीए सरकार का शपथ ग्रहण समारोह होना है, इसलिए भाजपा के आला नेता जल्द से जल्द सरकार के गठन की प्रक्रिया और मंत्रिमंडल के नामों को अंतिम रूप दे देना चाहते हैं।

यह भी बताया जा रहा है कि विचार-विमर्श की प्रक्रिया को पूरा कर लेने के बाद जेपी नड्डा और अमित शाह अपनी पूरी रिपोर्ट नरेंद्र मोदी को देंगे। मंत्रिमंडल का गठन करना प्रधानमंत्री का विशेषाधिकार होता है, इसलिए इस बारे में तमाम पक्षों, सहयोगी दलों और अपनी पार्टी की राय जानने के बाद अंतिम फैसला नरेंद्र मोदी ही करेंगे।