अमित शाह, राजनाथ सिंह, मायावती, राहुल गांधी, खरगे और प्रियंका गांधी ने हाथरस हादसे पर जताया दुख

0
9

हाथरस, 2 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के हाथरस में भोलेबाबा के सत्संग में हिस्सा लेने पहुंचे भक्तों के बीच भगदड़ मचने से कम से 100 लोगों की मौत हो गई है। भगदड़ का कारण भीषण गर्मी बताया जा रहा है, जिससे कई लोग बेहोश हो गए। बताया गया है कि सत्संग में 50 हजार से ज्यादा लोग मौजूद थे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं।

सीएम ने अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर राहत एवं बचाव कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं, लेकिन सत्संग में हिस्सा लेने वाले लोगों का आरोप है कि एंबुलेंस और पुलिस ने मौके पर पहुंचने में विलंब किया। उधर, अस्पताल में लाशों का ढेर पड़ा हुआ है। वहां ऑक्सीजन तक नहीं है। उपचार के लिए महज एक ही डॉक्टर है, जिससे अस्पताल में भी स्थिति भयावह बनी हुई है।

सीएम योगी ने अपने एक्स हैंडल पर कहा, “जनपद हाथरस की दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में हुई जनहानि अत्यंत दुखद एवं हृदय विदारक है। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ है। संबंधित अधिकारियों को राहत एवं बचाव कार्यों के युद्ध स्तर पर संचालन और घायलों के समुचित उपचार हेतु निर्देश दिए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण चौधरी जी, संदीप सिंह जी घटना स्थल के लिए रवाना हो चुके हैं तथा प्रदेश के मुख्य सचिव व पुलिस महानिदेशक को घटना स्थल पर पहुंचने हेतु निर्देशित किया है। एडीजी, आगरा और कमिश्नर, अलीगढ़ के नेतृत्व में टीम गठित कर दुर्घटना के कारणों की जांच के निर्देश भी दिए हैं। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान तथा घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें।“

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने भी हाथरस हादसे पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने अपने सोशल मीडिया एक्स हैंडल पर कहा, “उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए दुखद हादसे से मन अत्यंत व्यथित है। इस दुर्घटना में जान गंवाने वाले लोगों के परिवारजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। ईश्वर उन्हें यह कष्ट सहने की शक्ति दें। स्थानीय प्रशासन राहत कार्यों में जुटा है। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस घटना के संबंध में कहा, “उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में हुआ हादसा अत्यंत पीड़ादायक है। इस दुर्घटना में जिन्होंने अपनों को खोया है, उन शोकाकुल परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। इसके साथ ही मैं सभी घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। राज्य सरकार की देखरेख में स्थानीय प्रशासन सभी पीड़ितों की हरसंभव मदद कर रही है।“

केशव प्रसाद मौर्य ने अपने एक्स हैंडल पर कहा, “जनपद हाथरस में हुए हादसे में कई लोगों के हताहत होने की अत्यंत दुखद सूचना प्राप्त हुई है। ईश्वर से प्रार्थना है कि हादसे में दिवंगत आत्माओं को अपने श्रीचरणों में स्थान दें और घायलों को जल्द से जल्द स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें।“

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भी इस हादसे पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने कहा, “उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई दुर्घटना में महिलाओं और बच्चों सहित अनेक श्रद्धालुओं की मृत्यु का समाचार ह्रदय विदारक है। मैं अपने परिवारजनों को खोने वाले लोगों के प्रति गहन शोक संवेदना व्यक्त करती हूं तथा घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वास्थ्य की कामना करती हूं।“

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने इस संबंध में अपने सोशल मीडिया एक्स अकाउंट पर कहा, “उत्तर प्रदेश के हाथरस के सत्संग में भगदड़ मच जाने से कई श्रद्धालुओं की मृत्यु की खबर बेहद पीड़ादायक है। हादसे के दृश्य अत्यंत हृदय विदारक हैं। शोकाकुल परिवारों के प्रति हम गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं। सरकार एवं प्रशासन से आग्रह करते हैं कि घायलों के उपचार में कोई कमी न रखें व पीड़ितों को त्वरित मुआवजा उपलब्ध कराया जाए। विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं से अनुरोध है कि हादसे में पीड़ित लोगों को हर संभव मदद पहुंचाएं।“

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा, “हाथरस के रतिभानपुर में सत्संग के समापन के दौरान भगदड़ मचने से बड़ी संख्या में लोगों के हताहत होने का समाचार अत्यंत हृदय विदारक है। ईश्वर दिवंगतों की आत्मा को श्री चरणों में स्थान एवं शोकाकुल परिजनों को यह असीम दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। ईश्वर से घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं।“

समाजवादी पार्टी ने भी इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है। पार्टी ने अपने सोशल मीडिया एक्स हैंडल पर कहा, “हाथरस में सत्संग के दौरान मची भगदड़ में लोगों के हताहत होने की सूचना, अत्यंत दुःखद ! ईश्वर मृतकों की आत्मा को शांति दें, घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना। शोकाकुल परिजनों को यह असीम दुःख सहने का संबल प्राप्त हो। जल्द से जल्द पूरा हो राहत कार्य, पीड़ित परिवारों को मुआवजा दे सरकार।“

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है । उन्होंने अपने सोशल मीडिया एक्स हैंडल पर कहा, “हाथरस, उत्तर प्रदेश में सत्संग के दौरान भगदड़ की वजह से बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की मृत्यु एवं कई के घायल होने का समाचार हृदयविदारक है। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति प्रदान करें। शोक-संतप्त परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं। राज्य सरकार से मेरी अपील है कि पीड़ितों को उचित मुआवजा देने एवं घायलों के उपचार की व्यवस्था की जाए।“

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस हादसे पर कहा, “उत्तर प्रदेश के हाथरस में सत्संग के दौरान मची भगदड़ से कई श्रद्धालुओं की मृत्यु का समाचार अत्यंत पीड़ादायक है। सभी शोकाकुल परिजनों को अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करते हुए घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की आशा करता हूं। सरकार और प्रशासन से अनुरोध है कि घायलों को हर संभव उपचार एवं पीड़ित परिवारों को राहत उपलब्ध कराएं। इंडिया गठबंधन के सभी कार्यकर्ताओं से अनुरोध है कि राहत और बचाव में अपना सहयोग प्रदान करें।“

बसपा प्रमुख मायावती ने इस हादसे पर कहा, “यूपी के जिला हाथरस में सत्संग के दौरान मची भगदड़ में काफी संख्या में लोगों की हुई मौत व अनेकों के घायल होने तथा आगरा में भी बौध/भीमकथा के दौरान एक युवक की हुई हत्या अति-दुःखद। सरकार इन घटनाओं की जांच कर उचित कार्रवाई तथा पीड़ित परिवारों की आर्थिक मदद करे।“

कांग्रेस ने भी अपने सोशल मीडिया एक्स हैंडल पर इस घटना को लेकर दुख व्यक्त किया है। पार्टी ने कहा, “उत्तर प्रदेश के हाथरस में सत्संग के दौरान मची भगदड़ से श्रद्धालुओं की मृत्यु की खबर बेहद दुखद है। कांग्रेस परिवार की संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं और हम घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की आशा करते हैं। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को अपने श्रीचरणों में स्थान दें, ऐसी हमारी प्रार्थना है। कांग्रेस के सभी कार्यकर्ताओं से अनुरोध है कि राहत और बचाव में अपना सहयोग प्रदान करें।“