आतंकी घटना में पीड़ित लोगों के मौखिक इतिहास के बारे में अनुसंधान रिपोर्ट जारी

0
19

बीजिंग, 20 जनवरी (आईएएनएस)। चीन के शिनच्यांग उइगुर स्वायत्त प्रदेश में हुई हिंसक और आतंकवादी घटना में पीड़ित और जीवित बचे लोगों के मौखिक इतिहास के बारे में अनुसंधान रिपोर्ट पेइचिंग में जारी हुई। इसमें 28 फरवरी 2012 को उत्तर पश्चिमी चीन के शिनच्यांग उइगुर स्वायत्त प्रदेश के कशगर क्षेत्र की येछंग काउंटी में हुई आतंकी घटना को पूर्ववत किया गया।

मौखिक इतिहास अनुसंधान का एक तरीका है। शोधकर्ता रिकॉर्डिंग, ऑडियो और वीडियो आदि तरीकों से उत्तरदाताओं के ऐतिहासिक स्मृति के मौखिक वर्णन को इकट्ठा करते हैं, व्यवस्थित करते हैं और सहेजते हैं।

चीन के क्वांगचो प्रांत स्थित चिनान विश्वविद्यालय के संचार और सीमांत शासन संस्थान द्वारा लिखी इस रिपोर्ट में मौखिक इतिहास के तरीके से शिनच्यांग में हुई आतंकी घटना में पीड़ित लोगों, अनुभवकर्ताओं और उनके परिजनों के कहने के जरिए 12 साल पहले काशगर शहर में हुई आतंकी घटना के सत्य को पुनर्स्थापित किया गया।

कई पीड़ितों और उनके परिजनों ने आशा जताई कि इस तरह की आपदा कभी नहीं आएगी। आज के शिनच्यांग में स्थिरता मुश्किल से आती है। इसके मूल्य को और अच्छे से समझाना चाहिए।

अपूर्ण आंकड़ों के अनुसार वर्ष 1990 से 2016 तक चीन के शिनच्यांग उइगुर स्वायत्त प्रदेश में हजारों हिंसक और आतंकवादी घटनाएं हुईं, जिससे तमाम बेगुनाहों की मौत हुई और सैकड़ों पुलिसकर्मी ड्यूटी के दौरान मारे गए। संपत्ति के नुकसान का आकलन नहीं हो सका।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

–आईएएनएस

एबीएम/