एग्जिट पोल पर सवाल उठाने वाले विपक्ष पर कैलाश विजयवर्गीय का तंज, कहा- चार जून का इंतजार कीजिए

0
14

पटना, 2 जून (आईएएनएस)। हर मुद्दे पर प्रखरता से अपनी बात रखकर सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय एग्जिट पोल पर सवाल उठाने वाले विपक्ष पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि इस एग्जिट पोल से विपक्षी खेमा ना केवल मायूस है, बल्कि इस कदर बौखला चुका है कि उसे कुछ समझ नहीं आ रहा है कि क्या कहना है, क्या बोलना है, इसलिए जो मन में आ रहा है, बोले जा रहे हैं।

उन्होंने मीडिया से बातचीत में दो टूक कहा, “इन लोगों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। मैं एक बात दावे के साथ कह देना चाहता हूं कि चार जून के बाद यह साफ हो जाएगा कि यह एग्जिट बीजेपी के दफ्तर से आए हैं या जनता के बीच जाकर तैयार किए गए हैं। मुझे लगता है कि अब इंडिया गठबंधन के नेताओं को अपनी हार स्वीकार कर लेनी चाहिए। इसी में उनका भला है, लेकिन पता नहीं क्यों, ये लोग अपनी हार स्वीकार करना नहीं चाहते।“

बीजेपी नेता ने कहा, “चार जून को इन लोगों का सपना टूटने जा रहा है। शायद इसलिए ये लोग बौखलाए हुए हैं और जो भी मन में आ रहा है, कह रहे हैं। चार जून को जब ये लोग मोदी सरकार के पक्ष में जनादेश जाते हुए देखेंगे तो इन्हें साफ पता चल जाएगा कि इस बार किसकी सरकार बनने जा रही है। मुझे लगता है कि इंडिया गठबंधन के नेताओं को बिना समय गंवाए अपनी हार स्वीकार कर लेनी चाहिए।“

वहीं एग्जिट पोल के अलावा उन्होंने कई अन्य मसलों पर भी अपनी बात रखी। उनसे जब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल प्रकरण पर सवाल किया गया, तो उन्होंने दो टूक कहा, “इन्होंने ऐसा काम ही क्यों किया कि इन्हें जेल जाना पड़ा।“

इसके अलावा, उन्होंने रामकृपाल यादव पर चली गोली पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “बिहार में गोली बम चलना यह लालू जी के राज में बहुत हुआ था। अब यह बिहार में सामान्य हो चुका है। रामकृपाल यादव बहुत ही सक्षम नेता हैं। बहुत अच्छे नेता हैं। हो सकता है, जीत के कारण कहीं ना कहीं लोगों में कुछ ऐसा भाव आया हो कि उन पर गोली चलाई हो।“

इसके अलावा, उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर भी तंज कसते हुए कहा कि चार जून के बाद वो इटली छुट्टी मनाने चले जाएंगे। पटना पहुंचने के बाद कैलाश विजयवर्गीय ने मीडिया से बातचीत के दौरान इन मुद्दों पर खुलकर अपनी बात रखी।

शनिवार को सामने आए एग्जिट पोल में एनडीए की सरकार बनने की बात कही गई है। इसके बाद सियासी गलियारों में हलचल तेज है। इंडिया गठबंधन के नेता जहां इस एग्जिट पोल की विश्वसनीयता पर सवाल उठा रहे हैं, वहीं एनडीए नेता कह रहे हैं कि यह एग्जिट पोल चार जून को सच साबित होंगे और इंडिया गठबंधन द्वारा किए गए दावे खोखले हैं। वहीं, शनिवार को इंडिया गठबंधन की बैठक समाप्त होने के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने 295 सीटों के साथ सरकार बनाने का दावा किया, लेकिन किसी भी एग्जिट पोल में इंडिया गठबंधन के खाते में 295 सीटें जाने की बात नहीं कही गई है।