कांग्रेस को बड़ा झटका, भाजपा में शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली, राजकुमार चौहान, नसीब सिंह और नीरज बसोया

0
17

नई दिल्ली, 4 मई (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव से पहले दिल्ली में कांग्रेस को बड़ा राजनीतिक झटका लगा है। दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली, कांग्रेस की शीला दीक्षित सरकार में लगातार 15 वर्षों तक मंत्री रहे राजकुमार चौहान, पूर्व विधायक नसीब सिंह एवं नीरज बसोया और अमित मलिक ने शनिवार को भाजपा का दामन थाम लिया।

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े, भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी, संजय मयूख और भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा की मौजूदगी में अरविंदर सिंह लवली, राजकुमार चौहान, नसीब सिंह, नीरज बसोया और अमित मलिक ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े ने कांग्रेस के नेताओं का भाजपा में स्वागत करते हुए कहा कि यह लग रहा था कि रायबरेली से प्रियंका गांधी चुनाव लड़ेंगी, लेकिन राहुल गांधी ने रायबरेली से नामांकन भर दिया।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं, ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ लेकिन कांग्रेस का नारा ‘बेटा बचाओ बेटा बढ़ाओ’ है।

तावड़े ने कहा कि राहुल गांधी ने पहले वायनाड को अपना घर बताया और फिर रायबरेली चले गए और ऐसे लोगों के साथ रहना अरविंदर सिंह लवली और उनके साथियों को पसंद नहीं था। इसलिए उन्होंने अपने साथियों के साथ पीएम मोदी के नेतृत्व में चल रहे विकसित भारत अभियान के साथ जुड़ने के लिए भाजपा में शामिल होने का फैसला किया।

वहीं हरदीप सिंह पुरी ने केजरीवाल सरकार पर दिल्ली में विकास कार्य ठप करने का आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली की जनता ने शीला दीक्षित की सरकार के समय अरविंदर सिंह लवली और राजकुमार चौहान का काम देखा है और भाजपा इन सभी नेताओं की क्षमता का सदुपयोग करेगी।

वीरेन्द्र सचदेवा ने इन सभी नेताओं का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि उन्हें यकीन है कि सब मिलकर दिल्ली में भ्रष्टाचार वाली सरकार को उखाड़ फेंकेंगे।

भाजपा में शामिल होने के बाद अरविंदर सिंह लवली ने पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को राष्ट्र निर्माण और दिल्ली की लड़ाई में सहयोग का मौका देने के लिए धन्यवाद कहा।

उन्होंने कहा कि आज पांच साथी भाजपा में आए हैं, लेकिन पूरा काफिला तैयार है। इसमें कोई शक नहीं कि केंद्र में प्रचंड बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बनने जा रही है और आने वाले दिनों में वह दिल्ली में भी भाजपा की सरकार बनाने के लिए पूरी कोशिश करेंगे।

वहीं राजकुमार चौहान ने दिल्ली की आप सरकार पर जमकर निशाना साधा।