केजरीवाल की गिरफ्तारी पर बीजेपी ने उठाए आप-कांग्रेस दोस्ती पर सवाल

0
16

नई दिल्ली, 26 जून (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। अब ईडी के बाद उन पर सीबीआई ने शिकंजा कस दिया है। सीबीआई ने उन्हें ईडी की हिरासत से गिरफ्तार कर राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया।

गौर करने वाली बात है कि जिस केस में अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया गया है, उसकी शिकायत कांग्रेस ने साल 2022 में आम आदमी पार्टी के खिलाफ दर्ज कराई थी, जिस पर बीजेपी हमलावर हो चुकी है। कई बीजेपी नेताओं ने आम आदमी पार्टी पर जोरदार निशाना साधा है।

दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने सीबीआई द्वारा केजरीवाल की गिरफ्तारी पर कहा, “सीबीआई शराब घोटाला की जांच कर रही है। इससे पहले भी सीबीआई ने केजरीवाल को पूछताछ के लिए बुलाया था। इसी शराब घोटाला मामले में सीबीआई ने मनीष सिसोदिया को भी गिरफ्तार किया है। वहीं के कविता से भी पूछताछ चल रही है। अब अगर सीबीआई जांच के दायरे को बढ़ा रही है, तो केजरीवाल को भी इसका जवाब देना होगा और आम आदमी पार्टी को यह नहीं भूलना चाहिए कि कांग्रेस की शिकायत पर ही यह मामला दर्ज हुआ था। जब इन दोनों भ्रष्टाचारी दलों का अलायंस हुआ तब आम आदमी पार्टी को कांग्रेस से पूछना चाहिए था कि आपने हमारे खिलाफ शिकायत क्यों की?“

केंद्रीय मंत्री हर्ष मल्होत्रा ने अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी पर कहा, “आंदोलन के नाम पर आम आदमी पार्टी सत्ता पर काबिज हुई थी। दिल्ली के भोले-भाले लोगों को इन लोगों ने बरगलाया, लेकिन आज इनकी भ्रष्टाचार की परतें लगातार खुल रही हैं। कांग्रेस ने ही इनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। आज उसी का परिणाम है कि सीबीआई ने केजरीवाल को गिरफ्तार किया है। बुनियादी तौर पर ये लोग भ्रष्टाचारी हैं। जनता का हित इनके मन में बिल्कुल भी नहीं है। इन्होंने हर क्षेत्र में भ्रष्टाचार किया है, इन लोगों ने जो कर्म किए हैं, वो इन्हें भुगतने पड़ेंगे।“

भाजपा नेता प्रवीण खंडेलवाल ने केजरीवाल की गिरफ्तारी पर कहा, “देखिए, जिसने जैसा किया है, उसे वैसा भरना पड़ेगा। मैं आपको बता दूं कि यह मामला कांग्रेस नेता अजय माकन ने 2022 में उठाया था। मैं सवाल पूछना चाहता हूं कि अजय माकन जी अब इस मामले में क्या कहेंगे। क्या जिस तरह की दोस्ती इन लोगों ने इंडिया गठबंधन के अंतर्गत लोकसभा चुनाव के दौरान की थी, क्या उस पर अब सवाल नहीं उठाना चाहिए। मैं तो कहता हूं कि बिल्कुल उठना चाहिए, लेकिन आम आदमी पार्टी का कोई भी नेता किसी भी सवाल का जवाब देने की स्थिति में नहीं है। अब जिस तरह से सीबीआई इस मामले में कार्रवाई कर रही है, उससे यह साफ है कि यह मामला उससे भी बड़ा है, जितना लोगों ने सोचा था। निश्चित तौर पर जिसने जो किया है, उसे उसका दंड भुगतना होगा। न्यायालय अपना काम कर रहा है और उसका सम्मान सबको करना पड़ेगा।“

भाजपा नेता बांसुरी स्वराज ने सीबीआई द्वारा केजरीवाल की गिरफ्तारी पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की। उन्होंने कहा, “2022 में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस के कद्दावर नेताओं ने इस केस को उजागर किया था। कांग्रेस के इस कदम के बाद ही उपराज्यपाल ने इस मामले को सीबीआई को सौंपा था। आज जांच प्रक्रिया हो रही है। सीबीआई ने आज गिरफ्तार किया है, जो भी निर्धारित प्रक्रिया है, उसके आधार कड़ी कार्रवाई होगी। लेकिन मैं एक बात जरूर कहना चाहूंगी कि इस पूरे मामले में दो चीजें काफी हैरान करने वाली हैं। पहली यह कि लोकसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी ने उसी कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लिया जिसने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई और दूसरी यह सब जो भी हो रहा है, यह इसलिए हो रहा है, क्योंकि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की इस मामले में अहम भूमिका है। वहीं, जिस तरह से दिल्ली की सातों सीटों पर आम आदमी पार्टी को हार का सामना करना पड़ा है, उससे साफ है कि जनता इस बात को जानती है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस पूरे मामले में आरोपी हैं।“