खजुराहो महोत्सव के स्वर्ण जयंती वर्ष पर कथक कुंभ

0
29

भोपाल, 9 फरवरी (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश की विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी खजुराहो के महोत्सव का यह स्वर्ण जयंती वर्ष है। इस बार का समारोह 20 फरवरी से शुरू हो रहा है और यहां कथक कुंभ होगा।

संस्कृति, पर्यटन और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मेंद्र सिंह लोधी ने बताया कि 20 फरवरी से खजुराहो नृत्य महोत्सव शुरू होने जा रहा है।

खजुराहो नृत्य महोत्सव 1975 में शुरू हुआ और इस वर्ष यह अपना स्वर्ण जयंती वर्ष मना रहा है।

इस उपलब्धि को खास एवं यादगार बनाने के लिए संस्कृति विभाग द्वारा कथक-कुंभ का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें पहले दिन 20 फरवरी को कथक नृत्य के 1500 से 2000 कलाकारों द्वारा सामूहिक नृत्य ‘प्रस्तुत कर ‘‘विश्व रिकॉर्ड’’ स्थापित किये जाने का लक्ष्य रखा गया है।

संस्कृति विभाग द्वारा उस्ताद अलाउद्दीन खाँ संगीत एवं कला अकादमी, मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद, भोपाल के माध्यम से खजुराहो में प्रतिवर्ष खजुराहो नृत्य समारोह का आयोजन मध्य प्रदेश पर्यटन विभाग एवं पुरातत्व विभाग की सहभागिता से किया जाता है। पश्चिमी मंदिर समूह परिसर के अंदर चंदेलकालीन कंदारिया महादेव मंदिर तथा देवी जगदंबा मंदिर के मध्य विशाल मुक्ताकाशी मंच पर यह उत्सव 26 फरवरी तक आयोजित होगा।

महोत्सव के दौरान खजुराहो में देश-विदेश से पहुंचने वाले सैलानियों को विभिन्न गतिविधियां रोमांचित करेगी। म.प्र. टूरिज्म बोर्ड द्वारा विभिन्न रोमांचक गतिविधियां आयोजित की जाएंगी।

सैलानियों को रोमांचित करने के लिए स्काई डाईविंग (20-25 फरवरी ), कैम्पिंग, ट्रेल जॉय राइड, वाटर एडवेंचर, स्पीड बोट, बनाना राईड, शिकारा बाईड, रॉफ्टिंग, विलेज टूर, ई-बाइक टूर, रानेह फॉल टूर, दतला पहाड़, सेगवे टूर, खजुराहो नाईट टूर, फॉर्म टूर जैसी गतिविधियां आयोजित होंगी।