गलती से राहुल-अखिलेश सत्ता में आए तो राम मंदिर पर बाबरी ताला लगा देंगे : अमित शाह

0
9

हरदोई/कन्नौज, 8 मई (आईएएनएस)। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को हरदोई और कन्नौज में चुनावी जनसभाओं को संबोधित करते हुए विपक्षी दलों पर जोरदार हमले बोले।

हरदोई की जनसभा में अमित शाह ने कहा कि राहुल बाबा कहते हैं कि हम सरकार में आएंगे, तो धारा 370 और तीन तलाक वापस लाएंगे। मैं आपको बताता हूं कि गलती से भी राहुल बाबा और अखिलेश सत्ता में आ गए ​तो ये दोनों शहजादे अयोध्या के राम मंदिर पर बाबरी ताला लगा देंगे।

उन्होंने तंज भरे लहजे में कहा, “अभी-अभी पाकिस्तान ने राहुल बाबा की बड़ी प्रशंसा की है। एक पत्रकार ने मुझसे पूछा कि राहुल बाबा की प्रशंसा पाकिस्तान क्यों कर रहा है? तो, मैंने कहा, सर्जिकल स्ट्राइक होती है, राहुल बाबा विरोध करते हैं। नक्सली मरते हैं, राहुल बाबा विरोध करते हैं। धारा 370 हटती है, राहुल बाबा विरोध करते हैं। राम मंदिर बनता है, राहुल बाबा विरोध करते हैं। राहुल बाबा पाकिस्तान के एजेंडे को आगे बढ़ाते हैं और पाकिस्तान राहुल बाबा का समर्थन करता है।”

उन्होंने आगे कहा कि तीन चरण में हमारे नेता नरेंद्र मोदी 190 सीटें पार कर चुके हैं और ये चौथा चरण 200 पार करके 400 की ओर जाने का चरण है। समाजवादी पार्टी-कांग्रेस, दोनों का सूपड़ा साफ हो गया है। राहुल बाबा ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ निकाली थी, चुनाव के बाद ‘भारत जोड़ो यात्रा’ नहीं, ‘कांग्रेस ढूंढो यात्रा’ निकालनी पड़ेगी।

उन्होंने कहा कि घमंडिया गठबंधन है, सपा, कांग्रेस, टीएमसी ये सारे जो इकट्ठा हुए हैं, इन्होंने 12 लाख करोड़ रुपये के घोटाले किए हैं। कल ही झारखंड में इंडी गठबंधन के मंत्री के सचिव के नौकर के घर से 30 करोड़ रुपया पकड़ा गया है। कुछ दिन पहले कांग्रेस के एक सांसद के घर से 350 करोड़ रुपये पकड़े गए थे। उसके कुछ दिन पहले टीएमसी नेता के घर से 51 करोड़ रुपये पकड़े गए थे। मैं राहुल बाबा और अखिलेश से कहना चाहता हूं कि भ्रष्टाचार करोगे तो पकड़े भी जाओगे और जेल भी जाओगे। कोई रोक नहीं सकता।

उन्होंने कहा कि 2021 में अखिलेश यादव, हरदोई में सरदार पटेल की प्रतिमा का उद्घाटन करने आए थे और कह गए कि मो. अली जिन्ना महान व्यक्ति थे। अरे, अखिलेश इतिहास पढ़ो ढंग से, भारत माता के टुकड़े करने वाले और कोई नहीं आपके महान नेता जिन्ना थे।

दूसरी तरफ कन्नौज में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि विधानसभा में सपा के लोग वोट बैंक के लिए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते हैं। अखिलेश को शर्म आनी चाहिए। परिवारवादी पार्टी है, इनको परिवार के अलावा कुछ दिखाई नहीं देता। जब दंगे हो रहे थे, पश्चिम में लोग मर रहे थे, तब आप (अखिलेश यादव) सैफई में मनोरंजन कर रहे थे, डांस देख रहे थे। आपको शर्म आनी चाहिए।

अमित शाह ने कहा कि सपा में नेता जी गए, अखिलेश आ गए, इसके बाद डिंपल को ले आए। ये यादव समाज के शुभचिंतक नहीं हैं। इन्होंने 5 टिकट दिए, कन्नौज से अखिलेश यादव लड़ रहे हैं, मैनपुरी से डिंपल जी लड़ रही हैं, फिरोजाबाद से भतीजा अक्षय लड़ रहा है, बदायूं से आदित्य यादव लड़ रहा है, आजमगढ़ से धमेंद्र यादव लड़ रहे हैं। यहां वर्षों तक मुलायम सिंह जी के परिवार को आपने वोट दिया। ये ऐसा परिवार है, जो जीतता है तो भी बाद में नहीं आता और हारता है तो भी नहीं आता।

उन्होंने कहा कि कन्नौज वालों, कोरोना की विकट महामारी के दौरान अखिलेश जी या डिंपल जी यहां आए थे? सुब्रत पाठक यहां थे, जिन्होंने सबको मुफ्त ​टीका लगवाया। सदियों से हमारा कन्नौज, दुनिया भर में इत्र की खुशबू पहुंचाता है और जब जी-20 वाले आए तो हमारे नेता पीएम मोदी ने सबको कन्नौज का इत्र भेंट किया है। इसके अलावा, रामलला को जो इत्र जाता है, वो भी यहीं से जाता है।