गुरु रविदास के आदर्शों पर चलते हुए करूंगा मंगलौर विधानसभा की सेवा : करतार सिंह बढ़ाना

0
14

मंगलौर, 29 जून (आईएएनएस)। उत्तराखंड के साथ ही देश के सात राज्यों में 10 जुलाई को विधानसभा के उपचुनाव होना है। इसके लिए सभी पार्टियों के प्रत्याशी चुनाव मैदान में अपना जोर लगा रहे हैं। उत्तराखंड की दो विधानसभा सीटों के लिए भी 10 जुलाई को मतदान होना है। मंगलौर सीट से बीजेपी प्रत्याशी करतार सिंह भड़ाना ने शनिवार को मंगलौर विधानसभा में ग्राम नाथू खेड़ी में स्थित रविदास मंदिर में जाकर गुरु रविदास का आशीर्वाद लिया।

गुरु रविदास के चरणों में सिर झुकाते हुए करतार सिंह भड़ाना ने कहा कि, गुरु रविदास सबके पूजनीय हैं। वह मध्यकाल में संत कवि सतगुरु थे। जिन्हें संत शिरोमणि संत गुरु की उपाधि दी गई। गुरु रविदास का जन्म माघ पूर्णिमा को 1376 ईस्वी को उत्तर प्रदेश के वाराणसी शहर के गोवर्धनपुर गांव में हुआ था। गुरु रविदास ने रविदासिया पंथ की स्थापना की और उनके रचित कुछ भजन सिख पंथ के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहब में भी शामिल हैं। उन्होंने जात-पात का खंडन किया और आत्मज्ञान का मार्ग दिखाया।

उन्हीं का अनुसरण करते हुए मंगलौर विधानसभा प्रत्याशी करतार सिंह भड़ाना ने कहा कि वह भी जात-पात में विश्वास नहीं रखते। वे सभी मंगलौर के क्षेत्रवासियों का सर्वांगीण विकास चाहते हैं। उनका उद्देश्य केवल मंगलौर के निवासियों की सेवा करना है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी का लक्ष्य सबका विश्वास, सबका विकास है। चुनाव में जीत हासिल होने पर वे बिना किसी भेदभाव के सबके कल्याण के लिए काम करेंगे।