चीन और अफ़्रीका के बीच विश्वास एक मूल्यवान संपत्ति है : कार्लोस लोपेज

0
28

बीजिंग, 12 मार्च (आईएएनएस)। दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन विश्वविद्यालय में प्रोफेसर कार्लोस लोपेज ने चीनी अख़बार “चाइना डेली” में एक लेख लिखा, जिसमें बताया गया कि चीन और अफ्रीकी देशों के बीच विश्वास एक मूल्यवान संपत्ति है, और दोनों पक्षों के बीच सहयोग की मजबूती और साझा लाभ के क्षेत्रों में असीमित संभावनाएं मौजूद हैं।

कार्लोस लोपेज के विचार में चीन और अफ्रीका को दीर्घकालिक हितों को देखते हुए हाथ मिलाकर साझा समृद्धि की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि चीन में अभी-अभी संपन्न दो सत्र दोनों पक्षों के लिए संबंधों को मजबूत करने का अच्छा अवसर है।

कार्लोस लोपेज ने कहा कि लंबे समय से चीन-अफ्रीका सहयोग ने अफ्रीका के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। एक तरफ़, चीन अफ्रीका के लिए वित्तपोषण चैनल और तकनीकी सहायता प्रदान कर सकता है।

दूसरी तरफ़, चीन ने अफ्रीका में स्थानीय आर्थिक विकास के लिए मजबूत समर्थन दिया है और अफ्रीका को सतत विकास के मार्ग पर चलने में मदद की है, जिससे आर्थिक विकास में अफ्रीकी देशों के सामने मौजूद कमोडिटी निर्यात पर अत्यधिक निर्भरता वाले जोखिमों को कम किया गया।

इसके अलावा, अपने लेख में कार्लोस लोपेज ने यह भी कहा कि अनिश्चितता के इस दौर में, चीन और अफ्रीका को दीर्घकालिक हितों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और दोनों पक्षों के बीच एक मूल्यवान संपत्ति, यानी कि कड़ी मेहनत से प्राप्त विश्वास की संयुक्त रूप से रक्षा करनी चाहिए।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)