चुनाव आते ही शहजादे ने अंबानी, अदाणी को गाली देना क्यों बंद कर दिया : पीएम मोदी

0
11

करीमनगर, 8 मई (आईएएनएस)। तेलंगाना के करीमनगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पार्टी पर जोरदार प्रहार किया। इस दौरान उन्होंने मंच से कांग्रेस से प्रश्न पूछा कि आखिर लोकसभा चुनाव की तारीख घोषित होने के बाद अंबानी और अदाणी का नाम लेना क्यों बंद कर दिया। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को चुनाव के लिए उन उद्योगपतियों से कितना धन ‘प्राप्त’ हुआ है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “कांग्रेस के शहजादे पिछले 5 साल से सुबह उठते ही माला जपना शुरू करते थे। जबसे उनका राफेल वाला ग्राउंडेड हो गया। तब से उन्होंने एक नई माला जपना शुरू किया। 5 साल से एक ही माला जपते थे, ‘5 उद्योगपति’, फिर धीरे-धीरे कहने लगे ‘अंबानी’, ‘अडाणी’। लेकिन जब से चुनाव घोषित हुआ है, इन्होंने अंबानी, अदाणी को गाली देना बंद कर दिया है। मैं आज तेलंगाना की धरती से पूछना चाहता हूं? कांग्रेस के शहजादे से पूछना चाहता हूं कि उन्हें अदाणी, अंबानी से कितना माल मिला है? कालाधन के बोरे भर के रुपए मारे हैं? क्या सौदा हुआ है कि आपने रातों-रात अंबानी, अदाणी को गाली देना बंद कर दिया। जरूर दाल में कुछ काला है। 5 साल तक अंबानी, अदाणी को गाली दी और रातों-रात गालियां बंद हो गईं। मतलब कोई न कोई चोरी का माल टेंपो भरभर के आपने पाया है। देश को जवाब देना पड़ेगा।”

पीएम मोदी ने आगे बीआरएस और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, “करप्शन एक ऐसी फेविकोल है जो कांग्रेस और बीआरएस का कॉमन कैरेक्टर है। ये दोनों एक दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हैं। लेकिन, बैकडोर से दोनों एक ही करप्शन सिंडिकेट का हिस्सा हैं। बीआरएस वाले कांग्रेस पर कैश फॉर वोट का आरोप लगाते थे। लेकिन, जब तक वे सत्ता में रहे कभी जांच कराई क्या?, कांग्रेस जब विपक्ष में थी तो बीआरएस पर कालेश्वरम घोटाले का आरोप लगाती थी, ये आए दिन हंगामा भी करते थे। इतने दिन से तेलंगाना में कांग्रेस की सरकार है, लेकिन इन्होंने कालेश्वरम घोटाले की अभी तक कोई जांच नहीं कराई। क्योंकि दोनों एक ही करप्शन सिंडिकेट का हिस्सा हैं।”