जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव नहीं करवाना चाहती है बीजेपी : विकार रसूल वानी

0
3

जम्मू, 11 जुलाई (आईएएनएस)। जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 जुलाई को हुए आतंकी हमले में पांच जवान शहीद हो गए। जवानों की शहादत के बाद अब इसे लेकर राजनीति भी शुरू हो गई है। जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस पार्टी ने आतंकी हमले को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। इसके साथ ही कांग्रेस ने बीजेपी पर गंभीर आरोप भी लगाए।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विकार रसूल वानी ने कहा कि पिछले तीन सालों में लगभग 42 से अधिक जवान शहीद हुए हैं। हमें इसका बहुत दुख है। तीन दिन पहले ही एक आतंकी हमला हुआ, जिसमें हमारे पांच जवान शहीद हुए और छह घायल हो गए। आखिर बीजेपी सरकार क्या चाहती है। जो लोग आतंकवाद के खिलाफ सड़कों पर आकर पुतले जलाते थे, लेकिन अब पूरे हिंदुस्तान में ढोल बजा रहे हैं कि हमने जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद खत्म कर दिया।

उन्होंने आगे कहा कि अगर जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद खत्म हो गया होता तो कांग्रेस पार्टी पीएम मोदी और अमित शाह का आभार व्यक्त करते, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है और रोजाना हमारे जवान शहीद हो रहे हैं। हमें इस बात का दुख है और कांग्रेस को चिंता है कि जम्मू-कश्मीर के हालात दुरुस्त होने चाहिए। इसलिए हम चाहते हैं कि सरकार आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करे और ये भी बताए कि आतंकवाद को रोकने के लिए सरकार क्या करने वाली है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विकार रसूल वानी ने बीजेपी पर आरोप लगाया और कहा कि वह जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव नहीं करवाना चाहती है। इसी के चलते जम्मू कश्मीर में नए हथकंडे अपनाने की कोशिश की जा रही है। आम जनता के साथ-साथ अब सुरक्षा कर्मी भी सुरक्षित नहीं हैं और अमरनाथ यात्रा भी चल रही है। सरकार का फर्ज है कि चुनाव को कड़ी सुरक्षा के बीच शांतिपूर्वक संपन्न कराया जाए। इसके साथ ही अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा को भी मजबूत किया जाए।