जम्मू-कश्मीर में हुए हमले को कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत ने बताया केंद्र की विफलता

0
13

लखनऊ, 12 जून (आईएएनएस)। जम्मू-कश्मीर में तीन दिन में तीन बड़े आतंकी हमलों के बाद विपक्ष केंद्र की मोदी सरकार पर हमलावर है। विपक्ष इसे केंद्रीय खुफिया विभागों की विफलता बता रहा है। कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत ने बुधवार को केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए इन हमलों को भाजपा सरकार के कुप्रबंधन का नतीजा बताया।

सुरेंद्र राजपूत ने कहा, “यह भारतीय जनता पार्टी की विफलता है। वह जम्मू-कश्मीर में स्थिति को नियंत्रित कर पाने में पूरी तरह से विफल साबित हुई है। इसकी पूरी नैतिक जिम्मेदारी अगर किसी की बनती है, तो वह केंद्र की मोदी सरकार है। मैं बार-बार कहता हूं और हमेशा ही कहता रहूंगा कि आतंकवाद पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। भारतीय जनता पार्टी अगर सरकार बनाने के जश्न से बाहर निकल गई हो, तो मेरी गुजारिश है कि वह जम्मू-कश्मीर में सक्रिय सभी आतंकवादियों को नर्क में भेजे, ताकि वहां की जनता शांति से रह सके। अगर आज वहां लोग बेहाल हैं, तो इसकी पूरी जिम्मेदारी किसी और की नहीं, बल्कि केंद्र की मोदी सरकार की है।“

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, “मैं भाजपा को हिदायत देना चाहता हूं कि देश जम्मू-कश्मीर में और खून-खराबा बर्दाश्त नहीं करना चाहता है। केंद्र सरकार हमारे सैनिकों को पूरी आजादी दे, ताकि वहां सक्रिय आतंकवादियों का समूल विनाश हो सके। भाजपा कश्मीरी पंडितों को लेकर जुमलेबाजी करना बंद करे और पाकिस्तान को करारा जवाब दे, ताकि आतंकवादियों को कब्र में भेजा जा सके।“

उन्होंने आगे कहा, “जम्मू-कश्मीर में लगातार हो रहे आतंकी हमले सिर्फ सरकार की लापरवाही का नतीजा हैं। इस पर भाजपा को आत्मचिंतन करने की आवश्यकता है। इस सरकार ने दावा किया था कि उसने नोटबंदी करके आतंकवाद की कमर तोड़ दी है, पाकिस्तान को करारा जवाब दिया है। लेकिन अब पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधियों में तेजी आई है, उससे स्पष्ट है कि सरकार के दावे खोखले साबित हो रहे हैं। मैं सरकार को यही हिदायत देना चाहता हूं कि वह जुमलेबाजी से बाहर निकलकर आतंकवादियों को करारा जवाब दे।“