जिम्बाब्वे सीरीज में शुभमन गिल को कप्तानी के साथ बल्लेबाजी में भी करना होगा खुद को साबित  

0
16

हरारे, 5 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय टीम के स्टार बल्लेबाज शुभमन गिल जिम्बाब्वे के खिलाफ पांच मैचों की टी20 सीरीज में बतौर कप्तान उतर रहे हैं। 6 जुलाई से हरारे में होने जा रही इस सीरीज में शुभमन गिल कप्तान और बल्लेबाज दोनों के तौर पर नजरों में बने रहेंगे।

शुभमन गिल ने आईपीएल 2024 में गुजरात टाइटंस की कप्तानी की है लेकिन ये टीम पिछले सीजन में महज 10 अंकों के साथ 8वें स्थान पर ही रही थी। हालांकि बीसीसीआई युवा शुभमन गिल में भविष्य के तीनों फॉर्मेट की संभावनाएं तलाश रहा है और ये उनको जिम्बाब्वे के खिलाफ कमान देने के मुख्य कारणों में एक भी हो सकता है। जिम्बाब्वे के खिलाफ गिल एक युवा और अनुभवहीन टीम की कप्तानी करेंगे। ऐसे में ये देखने वाली बात होगी कि गिल अपनी आईपीएल कप्तानी के अनुभव का इस्तेमाल किस तरह से इन युवाओं में आत्मविश्वास भरने के लिए करते हैं।

शुभमन गिल के पास बैटिंग में रियान पराग, अभिषेक शर्मा जैसे युवा हैं तो वहीं गेंदबाजी में रवि बिश्नोई, आवेश खान, तुषार देशपांडे, हर्षित राणा जैसे शानदार विकल्प भी हैं और ये देखना दिलचस्प होगा कि गिल किस प्रकार से गेंदबाजी परिवर्तन कराते हैं। वे आईपीएल में अपने गेंदबाजों का बखूबी इस्तेमाल करने का कप्तानी हुनर दिखा चुके हैं।

शुभमन गिल के सामने चुनौती केवल कप्तानी ही नहीं बल्कि बल्लेबाजी के मोर्चे पर भी खुद को साबित करना भी है। गिल का पिछला आईपीएल सीजन उस तरह का नहीं रहा जैसा उन्होंने 2023 में हासिल किया था। तब इस स्टाइलिश बल्लेबाज ने 890 रन बना दिए थे। हालांकि इस बार वे टी20 विश्व कप टीम में यशस्वी जायसवाल जैसे होनहार बल्लेबाज के सामने अपनी जगह नहीं बना पाए हैं। गिल ने 14 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 25.76 की औसत के साथ 335 रन बनाए हैं जो उनकी क्षमता से कमतर है। ऐसे में शुभमन गिल को भी कहीं ना कहीं ये बात पता है कि उनको भारतीय टी20 टीम में अपनी जगह पक्की करने के लिए एक बढ़िया सीरीज की दरकार है।