जीवनभर हिंदुओं से लड़ाई लड़ने वाले अंसारी रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में हुए शामिल, कांग्रेस ने न्योता ठुकराया : पीएम मोदी

0
11

नई दिल्ली, 19 अप्रैल (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के चुनाव प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को मध्य प्रदेश के दमोह पहुंचे। यहां उन्होंने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस और इंडी गठबंधन पर जमकर निशाना। इस दौरान पीएम मोदी ने रामलला के प्राण प्रतिष्ठा का न्योता ठुकराने पर विपक्ष को आड़े हाथों लिया।

पीएम मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि आपने एक नाम तो सुना होगा। अयोध्या में एक अंसारी परिवार है, दो-दो पीढ़ी से ये अंसारी परिवार हिंदुओं के खिलाफ अदालत में जंग लड़ रहे थे, बाबरी मस्जिद के पक्ष में जंग लड़ रहे थे। इकबाल अंसारी, उनके पिता और पूरा परिवार कितने दशकों से लड़ाई लड़ रहा था। लेकिन, जब सुप्रीम कोर्ट ने निर्णय किया। ये हिंदुओं के पक्ष में जाएगा, तो इतने साल लड़ाई लड़ने के बावजूद भी उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का स्वागत किया, जीवनभर लड़ाई लड़ते रहे। इतना ही नहीं जिस समय राम मंदिर के शिलान्यास का कार्यक्रम था, जो राम मंदिर के ट्रस्टी हैं, उन्होंने हर एक के गुनाह और गलतियां माफ करके सबको प्यार से निमंत्रण पत्र दिया।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि आपको जानकर खुशी होगी। इकबाल अंसारी स्वयं शिलान्यास के कार्यक्रम में मौजूद रहे। जीवनभर लड़ाई लड़े थे। इतना ही नहीं जब अभी प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम था, तो ट्रस्टी ने उन्हें भी निमंत्रण दिया। जैसे कांग्रेस, सपा और इंडी गठबंधन वाले सभी नेताओं को दिया था। इसी तरह अंसारी को भी दिया था। जिंदगी भर वह हिंदुओं के खिलाफ कोर्ट में लड़ते रहे, बाबरी मस्जिद के लिए लड़ते रहे, राम मंदिर के विरूद्ध लड़ते रहे। लेकिन, जब प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण मिला। तो, वह हंसी-खुशी के साथ आकर सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते हुए इस कार्यक्रम में शामिल हुए। एक तरफ छोटा सा व्यक्ति अंसारी जो सामान्य परिवार का है, उसका व्यवहार देखिए, दूसरी तरफ कांग्रेस नेताओं का व्यवहार देखिए, उन्होंने रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम का न्योता ठुकरा दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस और इंडी गठबंधन वाले हमारी आस्था का अपमान करने में जुटे हैं। ये लोग कहते हैं कि हमारा सनातन डेंगू, मलेरिया है। अयोध्या में जो राम मंदिर बना है, उसके भी ये घोर विरोधी हैं। ये लोग भगवान श्रीराम की पूजा को पाखंड बताते हैं।

इससे पहले पीएम मोदी ने यूपी के अमरोहा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए भी अयोध्या में हुए रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का न्योता ठुकराने पर कांग्रेस और सपा पर हमला बोला था। पीएम मोदी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बना, तो सपा-कांग्रेस दोनों पार्टियों ने प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण ठुकरा दिया। ये लोग आए दिन राम मंदिर और सनातन आस्था को गालियां दे रहे हैं।