डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज, वेलिंगटन और ढाका सैन्य शिक्षा में करेंगे सहयोग

0
12

नई दिल्ली, 24 जून (आईएएनएस)। भारत और बांग्लादेश अब सैन्य शिक्षा के क्षेत्र में एक-दूसरे का सहयोग करेंगे। इस संबंध में दोनों देशों ने एक महत्वपूर्ण समझौता किया है।

इस समझौते से दोनों सेनाओं के अधिकारियों के पेशेवर कौशल को बढ़ाने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही दोनों देशों के बीच हुआ समझौता विशेषज्ञता को साझा करने में भी सहायता करेगा।

भारत के डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन और बांग्लादेश के डिफेंस सर्विसेड कमांड एंड स्टाफ कॉलेज (डीएससीएससी), मीरपुर, ढाका ने एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं।

भारत का डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन और बांग्लादेश के डिफेंस सर्विसेड कमांड एंड स्टाफ कॉलेज (डीएससीएससी) समान लोकाचार, प्रशिक्षण पाठ्यक्रम और कार्यप्रणाली साझा करते हैं। इसके साथ-साथ दोनों संस्थान समान चुनौतियों का भी सामना करते हैं। इसे मद्देनजर रखते हुए दोनों संस्थानों ने द्विपक्षीय जुड़ाव को और बढ़ाने के लिए समझौता-ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने का निर्णय लिया है।

सोमवार को रक्षा मंत्रालय ने बताया कि 22 जून को बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की भारत की आधिकारिक राजकीय यात्रा के दौरान समझौता-ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

रक्षा मंत्रालय का कहना है कि यह समझौता-ज्ञापन पेशेवर कौशल को बढ़ाने, रणनीतिक मामलों में गहन अंतर्दृष्टि प्रदान करने, उत्कृष्ट व्यवहारों और विशेषज्ञता को साझा करने में सहायता करेगा। इसके साथ ही प्रशिक्षु अधिकारियों और संकाय सदस्यों की शैक्षणिक क्षमताओं को बढ़ाएगा। यह प्रशिक्षण पैकेज, संयुक्त सेमिनार, संकाय आदान-प्रदान, पारस्परिक प्रशिक्षक यात्रा आदि के संचालन की सुविधा प्रदान करेगा।