दिल्ली में जल संकट को लेकर हरियाणा सरकार के खिलाफ ‘आप’ का विरोध-प्रदर्शन

0
10

नई दिल्ली, 10 जून (आईएएनएस)। दिल्ली में चल रहे जल संकट को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) और हरियाणा सरकार के बीच विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को नई दिल्ली स्थित हरियाणा भवन के बाहर जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल और पैरामिलिट्री फोर्स भी मौजूद रहे। ‘आप’ कार्यकर्ताओं और नेताओं का आरोप है कि हिमाचल प्रदेश से भेजे जा रहे पानी को हरियाणा सरकार दिल्ली तक नहीं पहुंचने दे रही है। इसके कारण दिल्ली की जनता त्राहिमाम कर रही है।

केजरीवाल सरकार में जल मंत्री आतिशी ने कहा, “वजीराबाद बैराज में पानी का स्तर कम हो गया है और मुनक नहर में भी पानी कम आ रहा है। हमने एलजी से अनुरोध किया है कि मुनक नहर में कम पानी छोड़े जाने के बारे में हरियाणा सरकार से बात करें। दिल्ली के सात वाटर ट्रीटमेंट प्लांट पानी के लिए मुनक नहर पर निर्भर हैं। एलजी ने हमें आश्वासन दिया है कि वे हरियाणा सरकार से बात करेंगे।”

उन्होंने कहा, “हमें हरियाणा के रास्ते हिमाचल प्रदेश से पानी मिलना था, लेकिन अभी तक नहीं मिला है। अगर हरियाणा सरकार मुनक नहर में पानी छोड़ दे तो दिल्ली वालों की पानी की समस्या कम हो जाएगी। हमें सुप्रीम कोर्ट के हलफनामे से जानकारी मिली है कि हिमाचल प्रदेश और हरियाणा सरकार के बीच भी जल विवाद चल रहा है।”

सोमवार की दोपहर से आप नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने हरियाणा भवन के बाहर दिल्ली के हक के लिए विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया है। आप नेताओं ने आरोप लगाया है कि हरियाणा की भाजपा सरकार दिल्ली के हक का पानी नहीं दे रही है। हरियाणा सरकार सुप्रीम कोर्ट का आदेश भी नहीं मान रही है। अपने हक के लिए पूरी दिल्ली सड़क से लेकर कोर्ट तक लड़ाई लड़ेगी और हरियाणा सरकार से अपने हक का पानी लेगी।

गौरतलब है कि जल संकट से दिल्ली की जनता त्राहिमाम कर रही है। दिल्ली के कई ऐसे इलाके हैं जहां पर पानी की सप्लाई नहीं हो पा रही है और टैंकर के जरिए पानी सप्लाई करना पड़ रहा है।