धर्मपाल गोंदर ने बताया, हरियाणा सरकार से क्यों लिया समर्थन वापस

0
9

करनाल, 8 मई (आईएएनएस)। हरियाणा में सियासी हलचल तेज हो गई है। करनाल के नीलोखेड़ी से निर्दलीय विधायक धर्मपाल गोंदर सहित तीन निर्दलीय विधायकों के समर्थन वापस लेने के बाद राज्य में सियासी संकट गहरा गया है। इस बीच धर्मपाल गोंदर ने बताया कि उन्होंने सरकार से समर्थन वापस क्यों लिया।

ऐसी जानकारी सामने आई है कि उनका समर्थन कांग्रेस को जाएगा। वह हरियाणा सरकार से काफी नाराज चल रहे थे।

निर्दलीय विधायक धर्मपाल गोंदर ने कहा कि हमने राज्यसभा चुनाव में, राष्ट्रपति चुनाव में सरकार का समर्थन किया। यहां तक कि नायब सैनी को भी हमने अपना समर्थन दिया। चुनाव चल रहा है। नीलोखेड़ी, तरावड़ी, निसिंग में कई कार्यक्रम हुए, लेकिन मुझे किसी भी कार्यक्रम में नहीं बुलाया गया। मैंने जनता के कहने पर समर्थन वापस ले लिया।

उन्होंने आगे कहा कि हम तीन विधायकों ने सरकार से समर्थन वापस लिया है। कांग्रेस गरीब और किसान हित की पार्टी है। कांग्रेस एक अच्छी पार्टी है। मुझे जनता ने आशीर्वाद दिया था। आगे भी मिलेगा।

धर्मपाल गोंदर ने आगे कहा कि अभी कांग्रेस में शामिल होने की कोई बात नहीं है और ना हमें मंत्री पद चाहिए। बस हम अपनी जनता का काम करना चाहते हैं।

धर्मपाल गोंदर करनाल के नीलोखेड़ी (आरक्षित सीट) से विधायक हैं।

उन्होंने यहां से निर्दलीय चुनाव जीता था और हरियाणा की भाजपा सरकार को समर्थन दिया था। अब उन्होंने अपना समर्थन वापस ले लिया है, जिससे सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं।