नीट मामले पर मायावती बोलीं, इसका जल्द निकले स्थाई समाधान

0
16

लखनऊ, 1 जुलाई (आईएएनएस)। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने सोमवार को कहा कि नीट (यूजी) और नीट (पीजी) परीक्षाओं को लेकर जो अनिश्चितता बनी हुई है, इसका शीघ्र ही स्थाई समाधान निकालना बहुत ज़रूरी है।

बसपा मुखिया मायावती ने सोमवार को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा कि देश में समय-समय पर होने वाली विभिन्न परीक्षाओं की शुचिता के साथ ही वर्तमान में मेडिकल की नीट-यूजी एवं पीजी परीक्षाओं को लेकर जो अनिश्चितता बनी हुई है उससे लोगों में बेचैनी, चिन्ता और आक्रोश की लहर स्वाभाविक है। इसका शीघ्र सही स्थाई समाधान निकालना बहुत ही ज़रूरी है।

उन्होंने आगे लिखा कि राष्ट्रीय स्तर पर ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश समेत सभी राज्यों में आयोजित होने वाली परीक्षाओं में पेपर लीक और सरकारी भर्तियों में भ्रष्टाचार का मामला भी अत्यंत गंभीर, दुःखद और चिन्तनीय है। इन समस्याओं के प्रति किसी प्रकार की सरकारी लापरवाही या राजनीति उचित नहीं है। इसकी रोकथाम के लिए सख़्त कदम आवश्यक है।

नीट (यूजी) 2024 की परीक्षा 5 मई को आयोजित की गई थी, जिसमें लगभग 24 लाख छात्र शामिल हुए थे। परिणाम 4 जून को घोषित किए गए थे, लेकिन इसके बाद अन्य अनियमितताओं के अलावा प्रश्न पत्र लीक के आरोप लगाए गए। इस मुद्दे पर सीबीआई की जांच से लेकर स्पेशल कमेटी बनाने तक हरसंभव कार्रवाई की गई है। शिक्षा मंत्रालय ने इसके बाद 18 जून को आयोजित यूजीसी नेट परीक्षाओं को भी रद्द कर दिया। इसे लेकर विपक्ष हंगामा कर रहा है।

नीट परीक्षा में गड़बड़ी को लेकर संसद में आज फिर हंगामे के आसार हैं। लोकसभा में विपक्ष के नेता राहुल गांधी इस मुद्दे पर चर्चा की मांग कर चुके हैं।