पहले आईआईटी, फिर आईपीएस और इसके बाद आईएएस बने यूपीएससी टॉपर आदित्य

0
12

नोएडा, 16 अप्रैल (आईएएनएस)। संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने सिविल सेवा परीक्षा 2023 का रिजल्ट जारी कर दिया है। इस परीक्षा में आदित्य श्रीवास्तव ने पहला स्थान प्राप्त किया है। 2022 में आदित्य श्रीवास्तव की रैंक यूपीएससी में 236वीं थी। वह फिलहाल हैदराबाद की आईपीएस ट्रेनिंग अकादमी में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।

आदित्य श्रीवास्तव अपने शुरुआती प्रयास में यूपीएससी के इंटरव्यू तक भी नहीं पहुंच सके थे। वह आईआईटी कानपुर से बीटेक और एमटेक कर चुके हैं। उन्होंने अपनी यह दोनों डिग्रियां इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग में हासिल की है। आदित्य ने साल 2019 में अपनी इंजीनियरिंग पूरी की थी।

आदित्य के पिता अजय कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि आज बहुत खुशी का दिन है। आदित्य बचपन से ही मेहनती था। आज उसकी मेहनत सफल हुई है। वो अकादमी में आईपीएस की ट्रेनिंग के दौरान लंच पर आया हुआ था। उसने बताया कि पापा यूपीएससी का रिजल्ट आया है। हमने सोचा कि वो टॉप 50 में आ जाएगा। जब उसने बताया कि उसका रैंक एक आया है तो मेरे हाथ-पैर कांपने लगे। बस उतनी ही बात हो पाई है बेटे से।

पिता ने आगे कहा कि उसने आज तक जितने भी कंपटीशन के एग्जाम दिए हैं, सभी में उसने अच्छी रैंक हासिल की है। इसलिए उम्मीद थी कि वह अच्छा ही करेगा। मेरी बेटी भी सीएमएस स्कूल में पढ़ती है, जब मैं पैरंट टीचर मीटिंग में जाता हूं तो उसके टीचर्स हमेशा उसके बारे में पूछते हैं। मुझे बहुत गर्व महसूस होता है। आदित्य को क्रिकेट खेलना और देखना पसंद है। वह नए गाने भी सुनता और गुनगुनाता है।

आदित्य की मां आभा श्रीवास्तव का कहना है आज अष्टमी के दिन मां की कृपा हुई है। हम लोगों ने व्रत भी रखा है और मैं रिजल्ट आने के पहले भजन करती रही। आदित्य के पापा का शौक था कि मेरा बेटा आईएएस बने। मेरे मामा जी रिटायर्ड आईएएस हैं, उन्हीं से आदित्य को प्रेरणा मिली थी। आईएएस का रुतबा और सुविधाएं देख कर वो कहता था कि मुझे भी ऐसा बनना है। बेटे ने हम लोगों को गौरवान्वित कर दिया है।

आदित्य के दादा शिवराम श्रीवास्तव, जो आईटीआई में इंस्ट्रक्टर के पद पर तैनात थे, उन्होंने बताया कि आज हमें बेहद खुशी हुई है। हमें यकीन नहीं हो रहा था कि आदित्य ने टॉप कर लिया है। वो पास कर लेगा ये जरूर पता था। वो कभी भी टाइम पास नहीं करता था। वो अपने आप 12 घंटे पढ़ता था।

आदित्य के स्कूल की प्रिंसिपल ने बताया कि लखनऊ के सीएमएस ब्रांच में आदित्य ने 15 साल पढ़ाई की है। 2014 में उसने 12वीं पास किया था। उस समय उसका परसेंटेज 97.5 था। हम सबके लिए खुशी की बात है। यह उसके लिए अचीवेबल था क्योंकि वह हमेशा से टॉप करता रहा है।